Gujarat Exclusive > राजनीति > BJP को कश्मीर फाइल्स की चिंता है, कश्मीरी पंडितों की नहीं: मनीष सिसोदिया

BJP को कश्मीर फाइल्स की चिंता है, कश्मीरी पंडितों की नहीं: मनीष सिसोदिया

0
157

जम्मू-कश्मीर से कश्मीरी पंडितों के पलायन और उनके दर्द को फिल्म कश्मीर फाइल्स में दर्शाया गया है. फिल्म सामने आने के बाद कश्मीरी पंडितों के स्थिति पर चर्चा फिर से शुरू हो गई है. लेकिन फिल्म सामने आने के बाद इसे सियासी मुद्दा भी बनाया गया, विपक्ष का कहना कि मोदी सरकार सत्ता में रहने के बाद भी कश्मीरी पंडितों के वापसी के लिए अभी तक कोई पहल क्यों नहीं की.

दिल्ली विधानसभा में बजट सत्र के दौरान उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने फिल्म द कश्मीर फाइल्स को लेकर बीजेपी पर जमकर हमला बोलते हुए कहा कि भाजपा को कश्मीर फाइल्स से प्यार है, हमें कश्मीरियों से प्यार है. इनको कश्मीरी पंडितों की चिंता नहीं है. CM केजरीवाल ने कश्मीरी पंडितों के लिए बहुत कुछ किया, दस्तावेज़ के अभाव में भी 223 शिक्षकों को स्थायी दर्जा, पेंशन प्रणाली को सुव्यवस्थित किया.

इसके अलावा दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि दिल्ली में रहने वाले कश्मीरी पंडितों को प्रति माह 3,000 रुपए प्रदान किए गए. देश भर के कश्मीरी पंडित कश्मीर वापस जाने का मौका चाहते हैं. भाजपा 8 साल से सत्ता में है. भाजपा सत्ता में रहते हुए कश्मीरी पंडितों की वापसी के लिए लिए क्या किया?

फिल्म कश्मीर फाइल्स को लेकर सिसोदिया ने केंद्र की मोदी सरकार पर हमला बोलते हुए आगे कहा कि कश्मीरी पंडित चाहते हैं कि उनका दर्द देश समझे लेकिन वह यह नहीं चाहते कि उनके दर्द को 200 करोड में बेचा जाए. उन्होंने 200 करोड़ कमा लिए हैं, तो यूट्यूब पर डाल दें जिससे त्रिलोकपुरी और कोंडली में रहने वाले आम लोग भी उनके दर्द को समझे.

बंगाल में टीएमसी और बीजेपी विधायकों के बीच विधानसभा में हाथापाई