Gujarat Exclusive > राजनीति > एनडीए में जाने से मांझी की नैया होगी पार, कल होगा पार्टी का विलय

एनडीए में जाने से मांझी की नैया होगी पार, कल होगा पार्टी का विलय

0
962
  • बिहार विधानसभा चुनाव से पहले महागठबंधन को लगा बड़ा झटका
  • महागठबंधन से अलग होने के बाद एनडीए में शामिल होंगे मांझी
  • मांझी की पार्टी को मिल सकता सीएम नीतीश कुमार से बड़ा तोहफा

कोरोना संकट के बीच साल के आखिरी में संभावित बिहार विधानसभा के चुनाव से बिल्कुल पहले बीते दिनों महागठबंध को बड़ा झटका लगा था.

चुनाव से ठीक पहले पार्टी और नेताओं का एक-दूसरे से अलग होने का सिलसिला तेज हो गया है.

ताजा जानकारी के मुताबिक बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी की पार्टी हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा महागठबंधन से अलग होने के बाद अब एनडीए में शामिल होने जा रही है.

कल पार्टी हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा का एनडीए में होगा विलय

महागठबंधन में लगातार नाराज चल रहे मांझी ने आखिरकार आज महागठबंधन छोड़ने का फैसला पिछले महीने किया था. इससे पहले पटना में मांझी ने अपनी पार्टी हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा के कोर ग्रुप की बैठक बुलाई थी.

गठबंधन से अलग होने के बाद उन्होंने 27 अगस्त को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से मुलाकात की थी तभी से अटकले लगाई जा रही थी कि वह एनडीए में शामिल हो सकते हैं.

यह भी पढ़ें: महागठबंधन से अलग हुई बिहार के पूर्व सीएम जीतन राम मांझी की पार्टी

भाजपा हाईकमांड ने दी हरी झंडी

मिल रही जानकारी के अनुसार कल जीतन राम मांझी की पार्टी हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा का एनडीए में विलय हो जाएगा. जानकारों की माने तो भाजपा ने मांझी के एनडीए में लौट आने को हरी झंडी दे दी है.

बिहार भाजपा प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल ने बीते शनिवार को कहा था कि जो भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में विश्वास रखता है उसका हमारी पार्टी में स्वागत है.

सीएम नीतीश से मिल सकता है सम्मान

माना जा रहा है कि मांझी ने महागठबंधन से बाहर जाने का निर्णय सीएम नीतीश से मिले इस आश्वासन के बाद लिया है कि उनकी पार्टी हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा को विधानसभा चुनाव में करीब 7 से 10 टिकट जेडीयू के कोटे से देंगे.

सूत्र यह भी बताते हैं कि एनडीए में वापसी को लेकर जीतन राम मांझी और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के बीच फोन पर बातचीत हो चुकी है.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

जेल से रिहा होने पर डॉ. कफील ने योगी सरकार पर लगाया गंभीर आरोप