Gujarat Exclusive > गुजरात > सूरत में तालाबंदी के बीच शादी, घर के पार्किंग में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कर हुई शादी

सूरत में तालाबंदी के बीच शादी, घर के पार्किंग में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कर हुई शादी

0
1147

कोरोना महामारी को रोकने के लिए जारी लॉकडाउन के दौरान सार्वजनिक तौर पर धार्मिक और सामाजिक प्रसंगों के आयोजन पर रोक है, जिससे कई लोगों ने तय शादियों का आयोजन रद्द कर दिया है, लेकिन कई ऐसे परिवार भी है जो तय मुर्हूत पर ही शादी का आयोजन कर रहे हैं. मंगलवार को सूरत के डिंडोली के लक्ष्मीनारायण नगर में लॉकडाउन के दौरान एक शादी का आयोजन हुआ, जिसमें कोविड -19 को लेकर सरकार की ओर से जारी मार्गदर्शिका का पूरी तरह पालन किया गया.

शादी के आयोजन में मुख्य भूमिका निभाने वाले विनोद गोपाल राइकवाड ने बताया कि पड़ोस में रहनेवाले विनोद गोराणी की पुत्री एनिसा की पांच महीने पहले डिंडोली तालाब के पास के विनायक एन्क्लेव निवासी केतन चंद्रकांत काशीवाला के साथ सगाई हुई थी. दोनों की अप्रैल महीने में शादी तय हुई थी, लेकिन इस दौरान लॉकडाउन शुरू हो गया. दोनों परिवारों को उम्मीद थी कि 14 अप्रैल को लॉकडाउन खत्म हो जाएगा, इसलिए उन्होंने लॉकडाउन के बाद शादी करने का तय किया, लेकिन लॉकडाउन के दूसरे चरण की घोषणा हो गई. जिसके बाद दोनों परिवार से जुड़े लोगों ने सोशल डिस्टेंसिंग और कोविड-19 को लेकर केन्द्र सरकार की गाइडलाइन का पालन करते हुए विवाह संपन्न किया.

मंगलवार शाम चार बजे के मुर्हूत पर वर और वधु के माता-पिता और ब्राह्मण समेत पांच जनों की मौजूदगी में पार्किग में शादी का आयोजन किया गया. इस दौरान सोशल डिस्टेंसिंग के साथ ही वर-वधु समेत सातों जनों ने हाथों में ग्लॉज और मुंह पर मास्क पहने थे. सेनेटाइजर से हाथों की सफाई कर विवाह समारोह का आरंभ किया गया.

शादी की खुशी में पीएम केयर्स फंड में जमा करवाई राशि

लॉकडाउन के दौरान हुई केतन और एनिसा की शादी की खुशी में विनोद राइकवाड और राकेश जगन्नाथ पाटिल ने मिलकर कोरोना महामारी के खिलाफ जारी जंग के लिए शुरू किए गए प्रधानमंत्री केयर्स फंड में 5100-5100 रुपए भी ऑनलाइन ट्रांजेक्शन के जरिए जमा करवाए.

कोरोना को लेकर दो हिस्सों में बंटा अहमदाबाद, एक भी वार्ड ग्रीन ज़ोन में नहीं शामिल