Gujarat Exclusive > देश-विदेश > डोनाल्ड ट्रंप के सलाहकार ने मास्क को लेकर फैलाई थी अफवाह, ट्विटर ने हटाया पोस्ट

डोनाल्ड ट्रंप के सलाहकार ने मास्क को लेकर फैलाई थी अफवाह, ट्विटर ने हटाया पोस्ट

0
254

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) सोशल मीडिया पर काफी सक्रिय रहते हैं. इतना ही नहीं उनके सलाहकार भी लगातार सोशल मीडिया पर अपनी बातें सामने रखते हैं. इसी सिलसिले में हाल ही में ट्रंप के सलाहकार ने मास्क (Mask) को कोरोना वायरस के रोकथाम के लिए कारगर उपाया की श्रेणी में शामिल नहीं किया था. अब ट्विटर (Twitter) ने ट्रंप के सलाहकार के उस बयान को हटा दिया है.

ट्विटर ने अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के एक सलाहकार का ट्वीट हटा दिया जिसमें उन्होंने कहा था कि कोरोना वायरस को फैलने से रोकने में मास्क (Mask) कारगर नहीं है. मालूम हो कि अमेरिका में कोरोना के मामले अभी भी लगातार सामने आ रहे हैं जबकि मरने वालों की तादात भी अब 2.15 लाख को पार कर चुकी है.

यह भी पढ़ें: भारत में ढलान की ओर कोरोना, बीते 24 घंटों में दर्ज हुए 55 हजार से ज्यादा नए मामले

क्या था ट्वीट

अगस्त में व्हाइट हाउस से विज्ञान सलाहकार के रूप में जुड़े स्कॉट एटलस ने ट्वीट किया था, ‘क्या मास्क काम करता है? नहीं.’ इसके अलावा उनका यह भी कहना था कि लोगों को मास्क (Mask) पहनने के लिए कहने वाली नीति का समर्थन नहीं किया जा सकता है.

ट्विटर का क्या है मानना

ट्विटर के एक प्रवक्ता ने कहा कि यह ट्वीट कंपनी की उस नीति का उल्लंघन है. इसके तहत कोई भी व्यक्ति कोविड-19 के संबंध में ऐसी गलत या भ्रामक जानकारी पोस्ट नहीं कर सकता है, जिसकी वजह से लोगों को नुकसान पहुंचे. नीति के तहत उन बयानों को प्रतिबंधित कर दिया जाता है, स्वास्थ्य विशेषज्ञ जिनके गलत होने या भ्रामक होने की पुष्टि करते हैं. इस तरह के मामलों में ट्विटर संबंधित व्यक्ति के अकाउंट को तब तक निष्क्रिय रखता है जब तक वह खुद अपने पोस्ट को नहीं हटाता.

ट्रंप ने भी हटाया था मास्क

मालूम हो कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप खुद मास्क (Mask) को लेकर विवादों में रहे हैं. वह कोरोना से संक्रमित होने के बाद वापस चुनावी कैंपेन में लग चुके हैं. इस सिलसिले में एक चुनावी रैली में उन्होंने अपना मास्क उतारकर फेंक दिया था. कोरोना से संक्रमित होने से पहले भी ट्रंप को बहुत कम ही मास्क के साथ देखा गया था. ऐसे में उनके इस रवैये को लेकर कई जानकारों ने चिंता जाहिर की थी.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें