Gujarat Exclusive > देश-विदेश > फरार चल रहे तबलीगी जमात के अध्यक्ष मौलाना साद ने कहा- रमजान में घर पर रहकर करें इबादत

फरार चल रहे तबलीगी जमात के अध्यक्ष मौलाना साद ने कहा- रमजान में घर पर रहकर करें इबादत

0
370

पूरे देश में कोरोना वायरस के कारम लॉकडाउन है. इसी बीच रमजान का पवित्र महीना शुरु होने वाला है. रमजान को लेकर दारुल उलूम की ओर से फतवा जारी किया गया है. फतवे में कहा गया है कि कोरोना वायरस से बचाव को सरकार द्वारा देश भर में लगाए गए लॉकडाउन के चलते माह-ए-रमजान की इबादतों को अपने घरों में ही रहकर करें. साथ ही स्वास्थ्य विभाग के द्वारा जारी की गई गाइडलाइन्स का पालन भी करें.

इसी बीच मौलाना साद ने भी एक ऑडियो जारी कर लोगों से घरों में ही रहने की अपील की है. मौलाना साद ने कहा कि मौका ऐसा है कि हमें यह बात करनी चाहिए थी कि आखिर इस महीने में क्या करें और क्या न करें. लेकिन इस वक्त पूरे देश में एक वायरस फैला है. तमाम लोगों से कहना है कि वह इस वायरस को खत्म करने की अल्लाह से दुआ करें. रमजान के महीने में लोग दावतें करते हैं.

लेकिन हालात के चलते यह अपील की जाती है कि जब तक मुल्क के कोने-कोने का शासन-प्रशासन लॉकडाउन में ढील नहीं देता तब तक लोगों को अपने घरों में ही रहना चाहिए. इसमें भी ज्यादा लोग इकट्ठा न हों. पाबंदियों का लिहाज किया जाए. यह हम सबकी जिम्मेदारी है. डॉक्टरों की हिदायत पर अमल, यकीन ईमान के हरगिज खिलाफ नहीं है.

दारुल उलूम ने क्या कहा

रविवार को दारुल उलूम देवबंद से जारी फतवे में कहा गया कि इसी माह के अंतिम सप्ताह में आरंभ होने वाले रमजान के महीने में भी कोविड-19 से बचाव के लिए स्वास्थ्य विभाग ने हिदायत जारी की हैं. इसके कारण माह-ए-रमजान में पढ़ी जाने वाली विशेष तरावीह की नमाज भी अन्य नमाजों की तरह मस्जिद और घरों में अदा की जाएं

तालाबंदी के दौरान नियमों का उल्लघन करने वालों के खिलाफ, पुलिस ने तैयार किया नया एक्शन प्लान