Gujarat Exclusive > राजनीति > विपक्ष परिपक्वता दिखाए, चीन के साथ आगे क्या करना है ये सरकार पर छोड़ें: मायावती

विपक्ष परिपक्वता दिखाए, चीन के साथ आगे क्या करना है ये सरकार पर छोड़ें: मायावती

0
1086

भारत-चीन सीमा विवाद पर विपक्ष लगातार केंद्र सरकार को घेर रही है लेकिन उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री और बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की सुप्रीमो मायावती ने कहा कि चीनी सेना के साथ झड़प में जवानों की मौत से पूरे देश में आक्रोश है. ऐसे समय में सरकार और विपक्ष को एकजुटता और परिपक्वता दिखाते हुए साथ काम करना चाहिए. मायावती ने ट्वीट करके विपक्ष को संयम से काम लेने की सलाह दी है और इसका फैसला सरकार पर छोड़ देने की राय दी है.

बसपा सुप्रीमो मायावती ने अपने ट्वीट में लिखा- अभी हाल ही में 15 जून को लद्दाख में चीनी सेना के साथ हुए संघर्ष में कर्नल सहित 20 सैनिकों की मौत से पूरा देश काफी दुःखी, चिन्तित व आक्रोशित है. इसके निदान हेतु सरकार व विपक्ष दोनों को पूरी परिपक्वता व एकजुटता के साथ काम करना है जो देश-दुनिया को दिखे व प्रभावी सिद्ध हो.

मायावती ने आगे लिखा, “ऐसे कठिन व चुनौती भरे समय में भारत सरकार की अगली कार्रवाई के सम्बंध में लोगों व विशषज्ञों की राय अलग-अलग हो सकती है, लेकिन मूल रूप से यह सरकार पर छोड़ देना बेहतर है कि वह देशहित व सीमा की रक्षा हर हाल में करे, जो कि हर सरकार का दायित्व भी है.”

 

मालूम हो कि न के टेंट हटाने से इनकार करने के बाद 15 जून को भारत और चीन के सैनिक आमने-सामने आए थे. देशों के सैनिकों के बीच झड़प हो गई थी. जिसमें 20 भारतीय जवानों की जान चली गई थी. सेना के सूत्रों के मुताबिक, चीन के 45 सैनिकों के मारे जाने या घायल होने की खबर है. उधर चीन के मुद्दे पर पीएएम मोदी के हालिया बयान पर विपक्ष लगातार सवाल खड़े कर रहा है.

राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री के लिए शाही लीची लाया था अधिकारी, हुआ कोरोना पॉजिटिव