Gujarat Exclusive > देश-विदेश > आस्था है तो सबसे पहले जो मांस बाहरी देशों में निर्यात होता है वो बैन कीजिए: ओवैसी

आस्था है तो सबसे पहले जो मांस बाहरी देशों में निर्यात होता है वो बैन कीजिए: ओवैसी

0
195

रामनवमी के मौके पर अलग-अलग राज्यों में हुई हिंसा के मामलों में पुलिस की कड़ी कार्रवाई जारी है. गुजरात, मध्य प्रदेश और महाराष्ट्र और पश्चिम बंगाल में रामनवमी के मौके पर हिंसक झड़प हुई थी. इस मामले में करीब 130 लोगों की गिरफ्तारी हो चुकी है. इसके अलावा मध्य प्रदेश में हिंसा में शामिल आरोपियों के घरों और दुकानों को भी जमींदोज कर दिया गया है.

इस मामले को लेकर AIMIM प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने हमला बोला है. ओवैसी ने कहा कि मध्य प्रदेश, गुजरात, गोवा, कर्नाटक में जो भी हुआ वहां की सरकारों की रज़ामंदी से किया गया. मध्य प्रदेश में घर-दुकाने जलाई गई, किस कानून के तहत ये किया गया आप कानून बताइये. आस्था है तो आप सबसे पहले जो मांस बाहरी देशों में निर्यात होता है वो बैन कीजिए.

इतना ही नहीं ओवैसी केंद्र की मोदी सरकार पर हमला बोलते हुए आगे कहा कि आप मांस के निर्यात को बैन नहीं करेंगे क्योंकि आपको डॉलर मिलता है और वो व्यक्ति जो दिन में 100-200 रूपए कमाता है आप उसके कारोबार को बंद कराते हैं.

वहीं इस मामले को लेकर मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने भी सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि मैं मूल रूप से बिना नोटिस बिना किसी को सुनें कार्रवाई के खिलाफ हूँ. क्या भारत के किसी क़ानून या नियम में इस बुलडोज़र संस्कृति का प्रावधान है? यदि आपको ग़ैर क़ानूनी तरीक़े से बुलडोज़र चलाना ही है तो उसमें धर्म के आधार पर पक्षपात तो ना करें. भारतीय संविधान में हर नागरिक को अपने धर्म का पालन करने का अधिकार है.धर्म देख कर शिवराज जी कार्रवाई करना असंवैधानिक है.

दिग्विजय सिंह के ट्वीट पर मचा बवाल, CM शिवराज ने कहा- राज्य को दंगों के आग में झोकने की कोशिश