Gujarat Exclusive > देश-विदेश > अमरनाथ यात्रा भाईचारे की निशानी थी, BJP ने इसका राजनीतिकरण किया: महबूबा मुफ्ती

अमरनाथ यात्रा भाईचारे की निशानी थी, BJP ने इसका राजनीतिकरण किया: महबूबा मुफ्ती

0
233

जम्मू- कश्मीर की पूर्व मुख्मयंत्री और पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी की अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती बीते कुछ दिनों से मोदी सरकार पर लगातार हमला बोल रही हैं. अब मुफ्ती ने अमरनाथ यात्रा और हर घर तिरंगा लगाए जाने के मामले को लेकर भाजपा पर निशाना साधा है. महबूबा मुफ्ती ने कहा कि हमने पाकिस्तान के साथ जाने से इनकार कर दिया और इस मुल्क के झंडा को कबूल किया. लेकिन आज हमारे घरों में घुसकर झंडा लगाया जा रहा है.

श्रीनगर में मीडिया से बातचीत करते हुए महबूबा मुफ्ती ने कहा कि हम एक मस्लिम बहुल प्रदेश हैं. हमने पाकिस्तान के साथ जाने से इंकार कर हिंदुस्तान से हाथ मिलाया. हमने इस मुल्क का झंडा कबूल किया और उसके साथ अपना झंडा मिलाया और दोनों झंडों को सलाम करते रहे. लेकिन आज हमारे घरों में घुसकर झंडे लगाते हैं.

पीडीपी अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती ने भाजपा पर सीधा हमला बोलते हुए कहा कि अमरनाथ यात्रा हिंदू-मुस्लिम भाईचारे की निशानी होती थी लेकिन भाजपा ने इस यात्रा को सियासी हथकंडा बना दिया है कि जैसे जम्मू-कश्मीर को फतह करना है. इनके पासे रिपोर्ट है जिसमें लिखा है कि एक दिन में यात्रा के लिए 5,000 से अधिक लोग नहीं जाने चाहिए.

केंद्र के मोदी सरकार द्वारा कश्मीर के विशेष दर्जा हटाने को लेकर एक बार फिर से हमला बोलते हुए कहा कि यह समझते हैं कि जम्मू-कश्मीर किसी और का हिस्सा है और ‘घर में घुस कर मारेंगे’ जैसा सलूक करते हैं. हमें इसका मुकाबला करना है. अगर हमने यह सोचा कि ‘जो हो गया, सो हो गया’ तो हमारा वजूद मिट जाएगा. हमारी ज़मीन, नौकरियां जा रही है.

प्राचीन भाषा और तकनीक के संयोजन के साथ वडतालधाम में 7 करोड़ की लागत से तैयार हुई संस्कृत पाठशाला