Gujarat Exclusive > गुजरात > सूरत में प्रवासी मजदूरों ने पुलिस पर किया पथराव, घर वापसी की मांग कर जमा हुए दो हजार लोग

सूरत में प्रवासी मजदूरों ने पुलिस पर किया पथराव, घर वापसी की मांग कर जमा हुए दो हजार लोग

0
14023

सूरत: लॉकडाउन 3.0 की शुरुआत में ही प्रवासी मजदूरों का घर वापस जाना एक बड़ा राजनीतिक मसला बन गया है. लेकिन इससे बिल्कुल हटकर अब प्रवासी मजदूर भूख और प्यास की वजह से हिंसक बन गए हैं. गुजरात के सूरत अपने वतन लौटने की मांग को लेकर 2,000 से अधिक प्रवासी कामगारों की भीड़ सड़कों पर उतर गई. जिसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने तालाबंदी के नियम को पालन करवाने के लिए रास्ते पर उतरे लोगों को समझाने की कोशिश की लेकिन लोगों ने पुलिस पर पथराव शुरू कर दिया जिसके बाद पुलिस को हालात पर काबू पाने के लिए टीयर गैस सेल छोड़ना पड़ा.

सूरत के पलसाणा के पास वरेली में काम करने वाले मजदूरों का गुस्सा फूट पड़ा और करीब दो हजार से ज्यादा लोग सड़क पर उतरकर घर वापसी की मांग की इस दौरान समझाने के लिए मौके पर पहुंची पुलिस पर पथराव किया. गुस्साए प्रवासी मजदूरों ने पुलिस के वाहनों में भी तोड़फोड़ किया. जिसके बाद हालात को काबू में करने के लिए पुलिस को टियरगैस का सेल छोड़ना पड़ा.

राजकोट में भी हंगामा

राजकोट के गोंडल में प्रवासी मजदूरों घर वापसी की मांग को लेकर एक जगह पर जमा हुए और जमकर हंगामा किया इस भीड़ में से कुछ लोगों ने आसपास तोड़फोड़ भी किया जिसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस की टीम ने हालात को काबू में करने के लिए इन तमाम लोगों को समझाने की कोशिश कर रही है लेकिन ये प्रवासी मजदूर घर वापसी की मांग पर रास्तों पर डंटे हुए हैं.

घर वापसी की मांग को लेकर सूरत में प्रवासी मजदूरों ने करवाया सामुहिक मुंडन