Gujarat Exclusive > यूथ > मिस इंडिया की फाइनलिस्ट ऐश्वर्या ने UPSC में पाई 93वीं रैंक

मिस इंडिया की फाइनलिस्ट ऐश्वर्या ने UPSC में पाई 93वीं रैंक

0
512

ऐश्वर्या श्योरान

  • मिस इंडिया 2016 के फाइनल में पहुंचीं
  • 2016 में कैंपस प्रिंसेस खिताब जीता
  • 19 की उम्र में मॉडलिंग शुरू किया
  • बिना ट्यूशन और कोचिंग पाई सफलता
  • एक्ट्रेस के नाम पर मां ने किया नामकरण

यूनियन पब्लिक सर्विस कमिशन (UPSC) के इस बार के सिविल सर्विस परीक्षा में प्रदीप सिंह ने शीर्ष स्थान हासिल किया. हालांकि देश को इस साल मिले 829 आईएएस/आईपीएस/आईएफएस ऑफिसर में ऐश्वर्या श्योरान का नाम सुर्खियों में है. मिस इंडिया की फाइनलिस्ट रह चुकीं ऐश्वर्या ने यूपीएससी परीक्षा में पहली बार में ही पूरे भारत में 93वां स्थान प्राप्त किया है.

ऐश्वर्या श्योराण मॉडलिंग करती हैं और मिस इंडिया की फाइनलिस्ट रह चुकी हैं.

उन्होंने अपनी कामयाबी से सोशल मीडिया पर खासी सुर्खियां बटोर ली हैं.

यह भी पढ़ें: मुंबई पुलिस ने विनय तिवारी को हाउस अरेस्ट किया: बिहार डीजीपी

मिस इंडिया 2016 की फाइनलिस्ट

दिल्ली विश्वविद्यालय के नॉर्थ कैंपस स्थित श्रीराम कॉलेज ऑफ कॉमर्स (एसआरसीसी) से इकोनॉमिक्स ऑनर्स की पढ़ाई कर चुकी ऐश्वर्या ने 19 साल की उम्र में मॉडलिंग के क्षेत्र में कदम रखा था.

वह 2016 में ऐश्वर्या ‘मिस इंडिया 2016’ की फाइनलिस्ट बनीं थीं.

उन्‍हें साल 2014 में एक प्रतियोगिता में फ्रेश फेस के टाइटल से भी नवाजा जा चुका है. इस बात की जानकारी फैमिना मिस इंडिया के ट्विटर पेज पर दी गई है.

वह 2016 में कैंपस प्रिंसेस दिल्ली का खिताब जीत चुकी हैं.

मिस इंडिया की टीम ने दी बधाई

मिस इंडिया ने ट्वीट किया, इसके अलावा 2015 में ऐश्वर्या ने फ्रेश फेस विनर दिल्ली का खिताब जीता और अब यूपीएससी में पूरे देश में 93वीं रैंक लाकर ऐश्वर्या को बहुत-बहुत बधाई.

 

नहीं ली कोचिंग या ट्यूशन

हालांकि ऐश्वर्या का कहना है कि यूपीएससी में सफल होना उनका एक सपना था, जिसे उन्होंने अब पूरा किया है.

उन्होंने ने बताया कि इसके लिए उन्होंने कोई ट्यूशन या कोचिंग नहीं लिया था.

ऐश्वर्या हमेशा से पढ़ाई में अच्छी थी और उन्होंने ब्रेक लेकर इसे यूपीएससी की तैयारी करने का मन बनाया.

एक्ट्रेस के नाम पर नामकरण

एक वेबसाइट से इंटरव्‍यू में ऐश्वर्या ने बताया कि, जब ऐश्वर्या राय मिस इंडिया बनी थीं तो उनकी मां ऐश्वर्या की खूबसूरती से बहुत प्रभावित हुईं थीं. इसके बाद ही उन्‍होंने बेटी का नाम रख दिया था.

वहीं अपनी मां का सपना साकार करते हुए ऐश्‍वर्या ने कई ब्‍यूटी कॉन्‍टेस्‍ट भी जीते.

हालांकि इसके बाद उनका पूरा फोकस यूपीएससी की परीक्षा पर बनाया.

उनकी मां के लिए वाकई य‍ह गर्व का क्षण है क्‍योंकि उनकी बेटी ने उनके सपने को उड़ान दी है.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें