Gujarat Exclusive > देश-विदेश > NRC को लेकर मोदी सरकार का यू-टर्न, लोकसभा में कहा- अभी तक नहीं लिया गया कोई फैसला

NRC को लेकर मोदी सरकार का यू-टर्न, लोकसभा में कहा- अभी तक नहीं लिया गया कोई फैसला

0
169

नागरिकता संशोधन कानून को लेकर जहां मोदी सरकार अपने फैसले पर अडिग है वहीं राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर को लेकर पहले ही पीएम मोदी ने कहा था कि मेरे मंत्रालय ने अभी तक इस कानून को लेकर कोई विचार नहीं किया है इस कानून को लेकर विपक्ष झूठ फैला रही है. ऐसे में अब गृह मंत्रालय ने साफ कर दिया है कि देश भर में राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर लाने की फिलहाल सरकार की कोई योजना नहीं है. गृह मंत्रालय की ओर से पहली बार संसद में इस बात की घोषणा की गई है.

गृह राज्यमंत्री नित्यानंद राय ने लोकसभा में मंगलवार को एक लिखित जवाब में यह जानकारी देते हुए कहा- ‘अभी तक देशव्यापी एनआरसी को लेकर सरकार ने कोई फैसला नहीं लिया है.’

 

गौरतलब है कि मंगलवार को ही लोकसभा में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह भी बयान देने वाले थे, लेकिन विपक्ष के हंगामे के कारण वह अपना बयान नहीं दे सके. स्पीकर ओम बिड़ला ने सदन की कार्यवाही को स्थगित कर दिया था. इसके बाद इस जवाब को गृह मंत्रालय की तरफ से सदन के पटल पर रख दिया गया.

क्‍या है एनआरसी

NRC ऐसा रजिस्टर है, जिसमें देश में रह रहे सभी वैध नागरिकों की डिटेल दर्ज होगी. 2013 में सुप्रीम कोर्ट की देख-रेख में असम में इसकी शुरुआत हुई थी. 31 अगस्त 2019 को असम एनआरसी की फाइनल लिस्ट जारी की गई है. फिलहाल NRC असम के अलावा दूसरे किसी राज्य में लागू नहीं है. अब गृह मंत्रालय ने भी कह दिया है कि फिलहाल एनआरसी लाने की कोई योजना नहीं है.