Gujarat Exclusive > राजनीति > संघ प्रमुख पर राहुल गांधी का पलटवार, कहा- सच्चाई जानते हैं लेकिन सामना करने से डरते हैं

संघ प्रमुख पर राहुल गांधी का पलटवार, कहा- सच्चाई जानते हैं लेकिन सामना करने से डरते हैं

0
271
  • राहुल गांधी ने संघ प्रमुख के बयान पर किया पलटवार
  • चीनी घुसपैठ के मामले को लेकर संघ और केंद्र पर लगाया गंभीर आरोप
  • विजयादशमी के मौके पर नागपुर में संघ प्रमुख ने चीन को लेकर दिया था विवाद
  • राहुल गांधी इससे पहले भी इस मामले को लेकर केंद्र पर बोल चुके हैं हमला

विजयादशमी के मौके पर नागपुर में होने वाले शस्त्र पूजा कार्यक्रम में हिस्सा लेते हुए राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रमुख मोहन भागवत ने चीन पर जमकर हमला बोला.

उन्होंने कहा कि चीन आज अपनी विस्तारवादी नीति की वजह से भारत के अलावा कई अन्य देशों से लड़ाई मौल ले चुका है.

मोहन भावत के इस बयान पर कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने पलटवार किया है.

संघ प्रमुख पर राहुल गांधी का पलटवार

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष और वायनाड से सांसद राहुल गांधी ने एएनआई के ट्वीट पर रीट्वीट करते हुए कहा कि चीन ने हमारी जमीन को हड़प ली है.

उन्होंने केंद्र की मोदी सरकार और मोहन भागवत पर हमला बोलते हुए कहा कि भारत सरकार और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ ने ऐसा होने देने की अनुमति दी है.

 

चीन अपना रही है विस्तारवादी नीति

मोहन भागवत ने संघ कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए चीन को बड़ा पैगाम दिया उन्होंने कहा कि आज पूरी दुनिया देख रही है कि चीन अपनी विस्तारवादी नीति को अपना रही है.

चीन का आज ताइवान, वियतनाम, अमेरिका, जापान और भारत से लड़ रहा है. लेकिन चीन के खिलाफ भारत का शासन, प्रशासन, सेना और जनता अडिग होकर खड़ाकर अपने स्वाभिमान और वीरता का परिचय दिया है.

इस मौके पर उन्होंने कहा कि हम सभी से दोस्ताना रिश्ता चाहते हैं लेकिन हमारी सद्भावना को दुर्बलता मानकर भारत को चाहे जैसा नजा ले झुका ले यह नहीं हो सकता.

ऐसा दुःसाहस करने वालों को समझ में आ जाना चाहिए.

राहुल गांधी इससे पहले पीएम मोदी पर बोल चुके हैं हमला

कोरोना संकट के बीच बीते दिनों PM मोदी ने देश को संबोधित किया था. लेकिन उनके संबोधन से पहले राहुल गांधी ने ट्वीट कर सवाल किया था कि “मैं प्रधानमंत्री से सुनना चाहूंगा कि चीन भारतीय क्षेत्र को कब छोड़ेगा.

लेकिन मैं आपको इस बात की गारंटी देता हूं कि प्रधानमंत्री में ये बताने की हिम्मत नहीं होगी. प्रधानमंत्री चीन के बारे में एक शब्द नहीं बोलेंगे.”

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

देश के नागरिकों को नागरिकता संशोधन कानून से नहीं है कोई खतरा: मोहन भागवत