Gujarat Exclusive > गुजरात > नमस्ते ट्रंप: गांधीनगर में जारी आंदोलन के बीच, अधिकारियों के कंधे पर गुजरात सरकार ने दी नई जिम्मेदारी

नमस्ते ट्रंप: गांधीनगर में जारी आंदोलन के बीच, अधिकारियों के कंधे पर गुजरात सरकार ने दी नई जिम्मेदारी

0
268

गांधीनगर: अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प और उनकी पत्नी मेलानिया ट्रम्प 24 फरवरी को अहमदाबाद आ रहे हैं. डोनाल्ड ट्रम्प दुनिया के सबसे बड़े क्रिकेट स्टेडियम जो अहमदाबाद शहर के मोटेरा इलाके में बना है उसका उद्घाटन करने वाले हैं. अहमदाबाद दौरा के दौरान ट्रंप तीन घंटा यहां पर रहने वाले हैं. ट्रंप के दौरे से पहले राज्य सरकार चिंतित है. क्योंकि राजधानी गांधीनगर में पिछले काफी दिनों से आरक्षण की मांग को लेकर आंदोलन हो रहा है. रोड शो के दौरान आंदोलनकारी किसी भी तरीके की हंगामा ना हो इसके लिए पुलिस तैयारी कर रही है. वहीं इस पूरे यात्रा को लेकर खुफिया एजेंसी भी गहरी नजर बना रखी हैं.

गुजरात की राजधानी गांधीनगर में पिछले लंबे वक्त से आंदोलन चल रहा है. एलआरडी भर्ती में आरक्षण की अपनी मांग को लेकर आंदोलन कर रहे हैं. आदिवासी समुदाय के लोग फर्जी आदिवासी प्रमाणपत्र को रद्द करने की मांग को लेकर आंदोलन कर रहे हैं. एलआरडी भर्ती में सीटों को बढ़ाने की मांग को लेकर पुरुष उम्मीदवार भी सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल रखा है. जिसकी वजह से गांधीनगर इन दिनों आंदोलनकारियों से भरा पड़ा है. ट्रंप के रोड शो के दौरान प्रदर्शनकारियों विरोध प्रदर्शन ना कर सकें इसलिए लगातार निगरानी कर रही है. इतना ही नहीं रुपाणी सरकार ने अपने पंसदीदा 50 वरिष्ठ अधिकारियों को आंदोलनकारियों समझाने की जिम्मेदारी सौंपी है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 23 फरवरी को अहमदाबाद आकर ट्रंप दौरे की तैयारियों का समीक्षा करेंगे. नरेंद्र मोदी अहमदाबाद में डोनाल्ड ट्रम्प के साथ एक लंबा रोड शो भी करने वाले हैं. इतना ही नहीं वह अहमदाबाद एअरपोर्ट पर ट्रंप का स्वागत भी करने वाले हैं.