Gujarat Exclusive > राजनीति > शब-ए-बारात को लेकर मुख्तार अब्बास नकवी की अपील, मस्जिदों में नहीं बल्कि घर पर करें इबादत

शब-ए-बारात को लेकर मुख्तार अब्बास नकवी की अपील, मस्जिदों में नहीं बल्कि घर पर करें इबादत

0
611

केंद्रीय अल्पसंख्यक कार्य मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने मंगलवार को मुस्लिम समुदाय का आह्वान किया कि ‘शब-ए-बारात’ के अवसर पर लोग लॉकडाउन एवं सामाजिक दूरी (सोशल डिस्टेंन्सिंग) के दिशानिर्देशों का पालन करते हुए अपने घरों पर ही इबादत करें. नकवी ने एक बयान में कहा कि देश के अधिकतर धर्म गुरूओं, धार्मिक-सामाजिक संगठनों ने शब-ए-बारात के दिन पूरी तरह से लॉकडाउन का ईमानदारी से पालन करने की अपील की है. इस बार शब-ए-बारात 8-9 अप्रैल की रात है. इस्लामी कैलेंडर में इस रात को पवित्र माना जाता है और इस मौके पर लोग मस्जिदों में इबादत करते हैं.

नकवी ने कहा, ‘केंद्रीय वक्फ परिषद के जरिए सभी राज्यों के वक्फ बोर्डो को भी निर्देश दिया गया है कि सभी राज्यों के वक्फ बोर्ड लॉकडाउन, सोशल डिस्टेंन्सिंग के दिशा-निर्देशों का पालन कराने में प्रशासन की मदद करें और लोगों से शब-ए-बारात के दिन घरों में ही इबादत के लिए अपील करें.’

नकवी ने लोगों से अपील करते हुए कहा कि ‘हमें अपने-अपने घरों में रहकर इबादत और कोरोना के कहर से हिन्दुस्तान एवं पूरी दुनिया को निजात मिलने की की दुआ करनी चाहिए.’

उन्होंने कहा, ‘प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अपील पर लॉकडाउन एवं सोशल डिस्टेंन्सिंग का देश गंभीरता से पालन कर रहा है. हमारी किसी भी तरह की लापरवाही हमारे परिवार, पूरे समाज और मुल्क के लिए परेशानी बढ़ा सकती है. हमें कोरोना को शिकस्त देने के लिए दिशानिर्देशों का पूरी ईमानदारी से पालन करना चाहिए.’

पलायन करने वाले मजदूरों का मामला, सुप्रीम कोर्ट ने कहा स्वास्थ्य और प्रबंधन का हम विशेषज्ञ नहीं