Gujarat Exclusive > गुजरात > गरबा खेलने वालों के लिए अच्छी खबर, गुजरात सरकार दे सकती है अनुमति

गरबा खेलने वालों के लिए अच्छी खबर, गुजरात सरकार दे सकती है अनुमति

0
823
  • नवरात्रि से लेकर गुजरात के उपमुख्यमंत्री नितिन पटेल का बड़ा बयान
  • जो भी निर्णय लिया जाएगा विचार करने के बाद ही लिया जाएगा: उपमुख्यमंत्री
  • सरकार नवरात्रि से कुछ दिन पहले करेगी ऐलान

अहमदाबाद: गुजरात में कोरोना के बढ़ते आतंक के बीच गरबा खेलेने वालों को राज्य सरकार अच्छी खबर दे सकती है. राज्य सरकार नवरात्रि के दौरान गरबा के आयोजन को लेकर अनुमति देने की तैयारी कर रही है.

कोरोना संकटकाल के बीच गुजरात के उपमुख्यमंत्री नितिन पटेल ने नवरात्रि को लेकर एक बड़ा बयान दिया है.

इस सिलसिले में जानकारी देते हुए गुजरात के उपमुख्यमंत्री नितिन पटेल ने कहा, “राज्य सरकार नवरात्रि के मौके पर गरबा के आयोजन को लेकर चर्चा विचारणा कर रही है.

अधिक से अधिक छूट दिया जाए इसको लेकर चर्चा की जा रही है. लेकिन राज्य सरकार गरबा के आयोजन को लेकर क्या कुछ फैसला करती है इसका ऐलान नवरात्रि से बिल्कुल पहले किया जाएगा.

सरकार यथासंभव राहत देने की सोच रही है. कोरोना महामारी के दौरान गरबा का आयोजन कैसे किया जाए और गरबा खेलने वाले लोगों के लिए क्या नियम बनाया जाएगा इसका विस्तार से अध्यन करने के बाद ही फैसला किया जाएगा.”

यह भी पढ़ें: सुरेंद्रनगर: गांधीनगर से लौट रहे भाजपा नेता जिणाभाई की कार पर गोलीबारी

नितिन पटेल ने कहा गुजरात का गरबा विश्वविख्यात

आपको बता दें कि नितिन पटेल के बयान से ऐसा लगता है कि राज्य सरकार कोरोना काल के बीच भी नवरात्रि का आयोजन कुछ दिशा-निर्देशों के साथ आयोजित करने की अनुमति दे सकती है.

इस मौके पर उन्होंने आगे कहा, “गुजरात का नवरात्रि देश और दुनिया में प्रसिद्ध है. यहां तक ​​कि राज्य के लोग भी नवरात्रि का उत्सुकता से इंतजार कर रहे हैं.

कोरोना संकटकाल के बीच भी लोग नवरात्रि के दौरान गरबा खेलने को लेकर उत्सुक दिखाई दे रहे हैं. गुजरात के गरबा की विश्व में प्रमुख पहचान है.

लेकिन सरकार की पहली प्राथमिकता है कि राज्य में कोरोना के बढ़ते कहर पर कैसे काबू पाया जा सके. ”

गुजरात के उपमुख्यमंत्री नितिन पटेल ने कहा कि 21 सितंबर से राज्य के स्कूलों को फिर से खोलने के मुद्दे पर कोई स्पष्टता नहीं दी.

गौरतलब है कि गुजरात सरकार ने पिछले महीने जन्माष्टमी, मोहर्रम और गणेश उत्सव को लेकर सख्त दिशा-निर्देश जारी करते हुए सार्वजनिक स्थलों पर किसी भी तरह का उत्सव नहीं मनाने का आदेश जारी किया था.

लेकिन आज जिस तरीके का बयान सामने आया है उससे उम्मीद जताई जा सकती है कि राज्य सरकार गरबा आयोजक को अच्छी खबर दे सकती है.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

कोरोना की चपेट में आए गुजरात के 160 डॉक्टर, स्वास्थ्य विभाग में मचा हड़कंप