Gujarat Exclusive > देश-विदेश > JEE-NEET परीक्षा को लेकर जारी हंगामा, NTA ने जारी किया नया दिशानिर्देश

JEE-NEET परीक्षा को लेकर जारी हंगामा, NTA ने जारी किया नया दिशानिर्देश

0
900

JEE-NEET परीक्षा को लेकर जारी हंगामा, NTA ने जारी किया नया दिशानिर्देश

  • सुप्रीम कोर्ट से हरी झंडी मिलने के बाद तय वक्त पर होगी जेईई और नीट की परीक्षा
  • परीक्षा को लेकर शिक्षा मंत्रालय ने जारी किया नई गाइडलाइन
  • विपक्ष कोरोना काल में परीक्षा आयोजित करने का कर रहा है विरोध
  • परीक्षा के दौरान कोरोना काल के नियमों का करना होगा पालन 

कोरोना संकटकाल में देश में दो अहम परीक्षा आयोजित करने के मामले को लेकर जारी सियासी हंगामे के बीच केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय परीक्षा आयोजित कराने के अपने फैसले पर अडिग है.

मंत्रालय ने नीट और जेईई मेन परीक्षा को अपने तय समय पर कारने की पूरी तैयारी कर लगी है.

इस बीच नेशनल टेस्टिंग एजेंसी ने परीक्षाओं को सुरक्षित बनाने के लिए नई गाइडलाइन भी जारी कर दिया है.

इस गाइडलाइन के तहत परीक्षा में हिस्सा बनने के लिए अभ्यार्थियों को इन नियमों का पालन करना होगा.

राज्यवार सेंटरर्स की संख्या में वृद्धि

केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय ने कल देर रात नीट(NEET) और जेईई (JEE) मेन्स की परीक्षा को लेकर राज्यवार सेंटरर्स की लिस्ट जारी कर दी है.

मंत्रालय की ओर से जारी लिस्ट के अनुसार पहले जेईई परीक्षा 570 सेंटर्स पर आयोजित होने वाले थे लेकिन अब इसकी संख्या को बढ़ाकर 660 कर दिया गया है.

जबकि नीट परीक्षा के सेंटर्स की संख्या को बढ़ाकर 3843 कर दिया गया है.

जारी की गई परीक्षा को लेकर गाइडलाइंस

नीट की परीक्षा के दौरान एक परीक्षाखंड में पहले 24 छात्र बैठने वाले थे लेकिन अब इसकी संख्या को घटाकर 21 कर दिया गया है. वहीं परीक्षा सेंटर्स की संख्या को भी बढ़ाकर 3843 कर दिया गया.

जबकि जेईई परीक्षा के लिए 8 शिफ्ट से बढ़ाकर 12 और परीक्षा सेंटर्स की संख्या को भी बढ़ा दिया गया है. परीक्षा के दौरान एक-एक सीट छोड़कर छात्रों को बिठाया जाएगा.

जबकि जेईई के लिए एक शिफ्ट में एक लाख 32 हजार की जगह अब 85 हजार अभ्यर्थी ही बैठेंगे. कोरोना संटक की वजह से सीटिंग प्लान में भी बदलाव किया गया है.

यह भी पढ़ें: JEE-NEET परीक्षा को लेकर गरम हुई सियासत, राहुल- प्रियंका ने दी केंद्र को सलाह

सोशल डिस्टेंसिंग का करना होगा पालन

नीट और जेईई को लेकर केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय की ओर से जारी नई गाइडलाइंस के अनुसार अभ्यार्थियों को एक दूसरे के बीच 6 फुट की दूरी पर रखकर बैठने की व्यवस्था की गई है.

जबकि जिन परीक्षार्थियों की बॉडी टेम्परेचर 99.4 डिग्री फॉरेनहाइट से ज्यादा होगी उन्हें आइसोलेशन रूम में बैठकर परीक्षा देने का इंतजाम किया गया है.

परीक्षा केंद्र में एडमिट कार्ड के साथ ही साथ आईडी प्रूफ और पानी की बोतल के साथ हैंड सेनिटाइजर ले जाने की अनुमति दी गई है.

जबकि परीक्षा देने के वक्त छात्रों के लिए मास्क और ग्लोव्स को अनिवार्य नहीं किया गया है.

तय वक्त पर होगी दोनों अहम परीक्षा

सुप्रीम कोर्ट के इस फैसले के बाद देश की सबसे अहम परीक्षाओं में से एक नीट और जेईई की परीक्षाओं का रास्ता साफ हो गया है.

ये दो अहम परीक्षाएं अब अपने तय वक्त पर आयोजित की जाएंगी. देश भर में 15 लाख से अधिक छात्रों ने नीट परीक्षा के लिए रजिस्ट्रेशन कराया है.

वहीं 9 लाख से ज्यादा छात्रों ने जेईई-मेन परीक्षा में हिस्सा लेने के लिए आवेदन किया है.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

अप्रैल से 1.89 करोड़ लोगों की गई नौकरी, बेरोजगारी दर 9 हफ्ते के शीर्ष पर