Gujarat Exclusive > गुजरात एक्सक्लूसिव > चिरिपाल समूह की लापरवाही, 1 महीने की बेटी ने अपने पिता की छत्रछाया खो दी

चिरिपाल समूह की लापरवाही, 1 महीने की बेटी ने अपने पिता की छत्रछाया खो दी

0
298

शहबाज शेख, अहमदाबाद: कल रात अहमदाबाद के पिरान्हा-पिपलेज में नंदन डेनिम फैक्ट्री में आग लग गई. नंदन डेनिम अहमदाबाद का कुख्यात बिजनेस घराना चिरीपाल के द्वारा संचालित किया जाता है. आग से फैक्ट्री में काम कर रहे सात श्रमिकों की मौत हो गई. पुलिस और अग्निशमन अधिकारी भी घटनास्थल पर पहुंचे और जांच के लिए मालिक सहित चार लोगों के खिलाफ शिकायत दर्ज की.

1 महीने की बेटी ने खो दिया पिता

चिरीपाल समूह की लापरवाही के कारण 7 मजदूरों की आग में झुलस कर करुण मौत हो गई. मालिकों के लापरवाही के कारण 7 परिवार तबाह हो गए. मृतक कुंजन की शादी पिछले साल हुई थी और वह 1 महीने की बच्ची का पिता भी है. ओवर टाइम के लिए कुंजन फैक्ट्री में मौजूद था. इस बीच उन्हें मौत के घाट भी उतारा गया. घटना में एक महिला ने अपने पति और 1 महीने के बच्चे ने अपने पिता को खो दिया.
फैक्टरी में काम करने वाले कार्मिकों से मालूम हुआ कि मृतक कुंजन परिवार की खराब आर्थिक स्थिति के कारण कारखाने में ओवरटाइम काम कर रहा था. सुमित्राबेन नामक एक अन्य महिला ने अभी 10 से तंग हालातों के चलते ओवरटाइम शुरू किया था जिसकी भी मौके पर मौत मालिकों के लापरवाही के कारण हो गई. मृतक के परिवार वालों ने फैक्ट्री मालिक के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है.

चिरपाल या ‘आगपाल’, कंपनी मालिकों की घोर लापरवाही

चिरिपाल समूह के नंदन डेनिम कारखाने में आग लगने से कंपनी मालिकों के गंभीर लापरवाही के तथ्य सामने आ रहे हैं. डेनिम फैक्ट्री के शेड बिना फायर सेफ्टी के पाए गए हैं. इसके अलावा, कारखाने में केवल एक सीढ़ी थी और आपातकालीन निकास न होने के कारण श्रमिकों की मौत हुई. नंदन डेनिम में पहले भी 2 बार भीषण आग लग चुकी है लेकिन मेहरबान सरकार के रहमोकरम पर मजदूरों के जिंदगी से खेलने वाले कंपनी प्रबंधन पर कोई आंच नहीं आई थी जिस कारण लापरवाही जारी रही और उसकी कीमत 7 मजदूरों ने अपनी जिंदगी गवांकर चुकाई.

आग के कारण के बारे में एक रहस्य

मुख्य अग्निशमन अधिकारी एमएफ दस्तूर ने कहा कि, आग लगने का सही कारण अभी तक निर्धारित नहीं किया गया है. दूसरी ओर, डेनिम कारखाने में किस कारण से आग लगी इस बारे में साइट पर मौजूद फैक्ट्री संचालकों की ओर से कोई प्रतिक्रिया नहीं दी गई. क्या शॉर्ट सर्किट या अन्य कारणों से आग लगी है? वे उस दिशा में अग्निशमन विभाग के निर्देश की जांच कर रहे हैं. घटनास्थल को वटवा और नारोल थाने की तफ़्तीश में ले लिया गया है.