Gujarat Exclusive > देश-विदेश > नेपाल की मस्जिद में छिपे थे 24 भारतीय जमाती, शुरुआती जांच में मिले कोरोना के लक्षण

नेपाल की मस्जिद में छिपे थे 24 भारतीय जमाती, शुरुआती जांच में मिले कोरोना के लक्षण

0
2239

भारत में नेपाल के रास्ते कोरोना का संक्रमण फैलाने की खबर का खुलासा होने के बाद पुलिस मुस्तैद हो गई है. नेपाल के पर्सा जिला प्रशासन और नेपाल पुलिस की टीम ने एक मस्जिद में छिपकर रह रहे 24 भारतीय जमातियों को हिरासत में लिया है और उनका टेस्ट कराया है, जिसमें से तीन लोगों में कोरोना का लक्षण देखा देखने को मिले हैं.

स्थानीय लैब में इनका कोरोना वायरस का टेस्ट कराया गया, जहां कोरोना वायरस की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद दूसरे टेस्ट के लिए सैम्पल्स को काठमांडू भेजा गया है. अगर वहां भी रिजल्ट पॉजिटिव आया तो इनके कोरोना वायरस से संक्रमित होने की आधिकारिक घोषणा की जाएगी.

दिल्ली के निजामुद्दीन के मरकज से लौटे ये सभी भारतीय सीमा से सटे नेपाल की मस्जिद में छिपे हुए थे और मौका निकालकर भारत में प्रवेश की योजना बना रहे थे. ये सभी जालिम मियां के कहने पर उस मस्जिद में छिपे हुए थे और उनके भारत में प्रवेश करने का ठेका जालिम मियां ने ही लिया था.

मस्जिद से नियंत्रण में लिए गए 24 लोगों में से 3 में कोरोना की आशंका होने के कारण उन तीनों को आइसोलेशन में रखा गया है, जबकि बाकी लोगों को क्वारनटीन में रखा गया है. इस घटना के बाद से पूरे बीरगंज शहर में लॉकडाउन को और ज्यादा मुस्तैद कर दिया गया है. यहां पर अब एक वार्ड से दूसरे वार्ड में जाने पर भी प्रतिबंध लगा दिया गया है.

अगर देश में तालाबंदी नहीं की गई होती तो, 8 लाख से ज्यादा होते कोरोना के मरीज: स्वास्थ्य मंत्रालय