Gujarat Exclusive > देश-विदेश > भारत में कोरोना के नए प्रकार के 20 मामले मिले, ब्रिटेन की फ्लाइट्स पर 7 जनवरी तक रोक

भारत में कोरोना के नए प्रकार के 20 मामले मिले, ब्रिटेन की फ्लाइट्स पर 7 जनवरी तक रोक

0
347

भारत में कोरोना के नए मामले जितनी राहत नहीं पहुंचा रहे, उससे कहीं ज्यादा ब्रिटेन वाला नया कोरोना (New Covid-19) टेंशन बढ़ा रहा है. ब्रिटेन से भारत आए 20 लोग अब तक इस स्ट्रेन से पॉजिटिव पाए गए है. मंगलवार को स्वास्थ्य मंत्रालय ने जानकारी दी थी इस संक्रमण (New Covid-19) से 6 लोग संक्रमित है लेकिन अब इनकी संख्या बढ़कर 20 हो गई है.

उधर केंद्र सरकार ने ब्रिटेन से आने-जाने वाली फ्लाइट्स पर सात जनवरी तक रोक लगा दी है. कोरोना के नए स्ट्रेन के खतरे के मद्देनजर यह फैसला लिया गया है. केंद्रीय विमानन मंत्री हरदीप पुरी ने इसकी जानकारी दी. इससे पहले 31 दिसंबर तक के लिए रोक लगाई गई थी.

उधर कोलकाता में कोरोना वायरस के नए स्ट्रेन (New Covid-19) का मामला आया है. यूके से लौटे एक व्यक्ति में स्ट्रेन के लक्षण मिले हैं, जिसे अब क्वारनटीन कर दिया गया है. जीनोम स्किवेंसिंग के बाद स्ट्रेन का पता लगा. यह शख्स पिछले हफ्ते ही यूके से वापस आया था.

यह भी पढ़ें: सीएम रूपाणी से बात करने के बाद मनसुख वसावा ने वापस लिया इस्तीफा

वहीं कर्नाटक के स्वास्थ्य मंत्री ने जानकारी दी है कि राज्य में 7 लोगों में कोरोना के नए स्ट्रेन (New Covid-19) के लक्षण पाए गए हैं, 3 बेंगलुरु और 4 शिमोगा. जो लोग शिमोगा में पॉजिटिव पाए गए हैं, उनके संपर्क में आए कुछ लोगों को भी कोरोना हुआ है. इसमें दिल्ली के एनसीडीसी लैब में 8, nimhans में 7, सीसीएमबी हैदराबाद लैब में 2 सैंपल के यूके के नए स्ट्रेन होने का पता चला है. वहीं NIBG कल्याणी – कोलकात्ता, NIV पुणे, IGIB दिल्ली में एक- एक सैंपल के यूके के नए स्ट्रेन होने की पुष्टि हुई है.

मेरठ में दो साल की बच्ची में स्ट्रेन

मंगलवार को उत्तर प्रदेश के मेरठ में 2 साल की बच्ची में कोरोना वायरस का नया स्ट्रेन (New Covid-19) मिला था. बच्ची का परिवार ब्रिटेन से लौटा था, जिसके बाद बच्ची समेत उसके माता-पिता कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे. हालांकि, नया स्ट्रेन सिर्फ दो साल की बच्ची में ही मिला है और उसके माता-पिता में नया स्ट्रेन नहीं पाया गया है. बता दें कि केंद्र सरकार ने 25 नवंबर से 23 दिसंबर तक यूके से भारत आए लोगों के आरटी पीसीआर टेस्ट करने का फैसला किया था.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें