Gujarat Exclusive > देश-विदेश > ब्रिटेन से भारत आए 22 यात्री कोरोना पॉजिटिव, दिल्ली में नए वायरस का संदिग्ध मिला

ब्रिटेन से भारत आए 22 यात्री कोरोना पॉजिटिव, दिल्ली में नए वायरस का संदिग्ध मिला

0
487

ब्रिटेन (Britain) में मिले नए कोरोना वायरस (New Covid-19) को लेकर दुनिया में दहशत का माहौल पैदा हो गया है. इसी बीच खबर है कि पिछले कुछ दिनों में ब्रिटेन से भारत आने वाले कम से कम 22 यात्री कोरोना पॉजिटिव (Covid Positive)  पाए गए हैं.

वहीं दिल्ली में एक यात्री नए स्ट्रेन (New Covid-19) को लेकर संदिग्ध पाया गया है. मंगलवार रात ब्रिटेन से आई फ्लाइट में एक यात्री कोरोना संक्रमित पाया गया जिसे दिल्ली के लोकनायक अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

यह भी पढ़ें: गुजरात में लगातार तीसरे दिन कोरोना के एक हजार से कम नए मामले मिले

एबीपी न्यूज चैनल से बातचीत के दौरान डॉ सुरेश कुमार ने बताया है कि एक मरीज नए स्ट्रेन (New Covid-19) का संदिग्ध है और उसका टेस्ट किया जा रहा है. अभी मरीज़ के टेस्ट किए जा रहे हैं, टेस्ट के रिजल्ट 3-4 दिन में आएंगे. रिज़ल्ट से पुष्टि होगी कि यह पहले वाला स्ट्रेन  है या नया स्ट्रेन (New Covid-19) है. लेकिन मरीज अभी बिल्कुल ठीक और एसिम्प्टोमैटिक है. मरीज़ की ट्रैवल हिस्ट्री है इसलिए उनको अलग से आइसोलेशन में रखा गया है.

दिल्ली में 11 पॉजिटिव केस मिले

इससे पहले अधिकारियों ने बताया कि ब्रिटेन से या ब्रिटेन होकर आए 11 लोग दिल्ली में पॉजिटिव पाए गए जबकि 8 अमृतसर में, दो कोलकाता में और एक व्यक्त‍ि चेन्नई में पॉजिटिव पाया गया. सरकार ने कहा है कि अभी तक भारत में कोरोना के नए स्ट्रेन से जुड़ा एक भी मामला सामने नहीं आया है. मालूम हो कि कोरोना के नए स्ट्रेन (New Covid-19) को लेकर दुनिया भर में सतर्कता के बीच ये यात्री संक्रमित मिले हैं. कोरोना का नया म्यूटेंट स्ट्रेन ज्यादा संक्रामक माना जा रहा है औऱ सबसे पहले ब्रिटेन में इसकी पहचान हुई थी.

बता दें ब्रिटिश उड़ानों (UK Flights Ban) पर बुधवार से प्रतिबंध लागू होने के पहले के दो दिनों में ब्रिटेन से आने वाले सभी यात्रियों का आरटीपीसीआर टेस्ट (RTPCR Test) कराया गया है. इन यात्रियों को कोरोना टेस्ट का नतीजा आने तक एयरपोर्ट पर ही रोका गया. इनमें जो भी व्यक्ति कोरोना संक्रमित पाए गए हैं, उनके सैंपल उन्नत प्रयोगशालाओं (LAB) जैसी नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी पुणे जैसी जगहों पर भेजे गए हैं, ताकि म्यूटेंट कोरोना वायरस (Mutant Corona Virus) के स्ट्रेन का पता लगाया जा सके.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें