Gujarat Exclusive > देश-विदेश > कोरोना के खिलाफ जारी जंग में राजस्थान सरकार की नई पहल, खरीदेगी कोबास-8800 मशीन

कोरोना के खिलाफ जारी जंग में राजस्थान सरकार की नई पहल, खरीदेगी कोबास-8800 मशीन

0
1481

राजस्थान में कोरोना की जांचों में तेजी लाने के लिए सरकार कोबास- 8800 मशीन खरीदेगी. इससे प्रतिदिन 3 हजार से अधिक टेस्ट हो सकेंगे. चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री डॉ. रघु शर्मा ने बताया कि जयपुर और जोधपुर में कोरोना संक्रमितों की जांच में तेजी लाने के लिए राज्य सरकार ने महत्वपूर्ण फैसला लेते हुए कोबास-8800 मशीनों के खरीदने के आदेश दे दिए हैं. यह मशीन एफडीए (फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन, अमरीका) से अनुमोदित है. इससे जयपुर और जोधपुर जिलों में वर्तमान से लगभग 3 हजार ज्यादा जांचें की जा सकेंगी.

आरएनए एस्ट्रक्शन और आरटी-पीसीआर दोनों टेस्ट एक साथ हो सकते हैं

डॉ. शर्मा ने कहा कि देश में राजस्थान और तेलंगाना केवल दो ऐसे राज्य हैं, जो इस मशीन को खरीद रहे हैं. इस मशीन से आरएनए एस्ट्रक्शन और आरटी-पीसीआर दोनों टेस्ट एक साथ हो सकते हैं. इसमें ऑटोमेटिक और मैनुअली दोनों तरीके से टेस्ट हो सकेंगे. उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री की 10 हजार जांच प्रतिदिन करने की सोच की ओर राजस्थान तेजी से बढ़ रहा है. डॉ. शर्मा ने बताया कि कोरोना प्रभावित जिलों में भी जांच में तेजी लाई जा रही है. इसी के मद्देनजर भरतपुर, डूंगरपुर, पाली और बाड़मेर में आरटी-पीसीआर की मशीनों को पहुंचा दिया गया है.

आरटी-पीसीआर मशीनें पहुंच चुकी हैं

यही नहीं उदयपुर और अजमेर में जांच की क्षमता बढ़ाने के लिए अतिरिक्त आरटी-पीसीआर मशीनें पहुंच चुकी हैं. भीलवाड़ा में आईसीएमआर द्वारा जांच की अनुमति मिल जाएगी. इसके अलावा जोधपुर के डेजर्ट रिसर्च इंस्टीट्यूट में भी 300 जांच प्रतिदिन करवाने के सुविधा प्रारंभ हो गई है. उन्होंने कहा कि जितनी ज्यादा जांचें होंगी कोरोना की वास्तविकता का पता उतना ही जल्द चल सकेगा.

तालाबंदी के बीच इंडिगो ने बदला अपना फैसला, कंपनी नहीं काटेगी कर्मचारियों का वेतन