Gujarat Exclusive > देश-विदेश > यह तो बस शुरुआत है, ओलंपिक में जीतना है देश के लिए गोल्ड मेडल: निकहत जरीन

यह तो बस शुरुआत है, ओलंपिक में जीतना है देश के लिए गोल्ड मेडल: निकहत जरीन

0
233

दिल्ली: खेल मंत्री अनुराग ठाकुर विश्व चैंपियन बॉक्सर निकहत जरीन और मुक्केबाजी में कांस्य पदक विजेता मनीषा मौन और परवीन के साथ पूरे भारतीय दल के सम्मान कार्यक्रम में शामिल हुए. भारतीय मुक्केबाजी संघ द्वारा इंदिरा गांधी स्टेडियम में आयोजित सम्मान समारोह में कहा कि मैं कड़ी मेहनत कर रही हूं, क्योंकि मेरी नजरें अब 2024 में होने वाले पेरिस ओलंपिक में पदक जीतने पर है.

इस मौके पर महिला मुक्केबाज निकहत जरीन ने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि अपने देश के लिए गोल्ड मेडल जीतकर बहुत खुशी हो रही है, यह बस शुरुआत है क्योंकि मुझे पता है कि ओलंपिक कितना बड़ा मुकाबला है उसके लिए मेहनत कर उसमें भी गोल्ड जीतना है. मैंने इस बार सारी प्रतियोगिता 5-0 से एकतरफा जीती है जिसकी मुझे खुशी है.

इस मौके पर केंद्रीय खेल मंत्री अनुराग ठाकुर ने कहा कि खेलों को बढ़ावा देने के लिए आधारभूत ढ़ांचे बन रहे हैं, खिलड़ियों के लिए निवेश में वृद्धि हुई है. हम सरकार के नाते यह सब कर रहे हैं लेकिन ज़मीन पर आप लोगों को प्रदर्शन करना है. अगर आप तीर-कमान उठातें हैं तो उससे कितने बच्चे उससे सपना देखते हैं.

गौरतलब है कि निकहत जरीन ने 19 मई को इस्तांबुल में आयोजित महिला विश्व चैम्पियनशिप के 52 किग्रा के फाइनल में थाईलैंड की जितपोंग जुतामास पर 5-0 की आसान जीत दर्ज की थी, उसके बाद अब उनकी नजरें 2024 में होने वाले पेरिस ओलंपिक में पदक जीतने पर है.

अमेरिका के टेक्सास में स्कूल में अंधाधुंध फायरिंग, 18 छात्रों समेत 21 की मौत