Gujarat Exclusive > देश-विदेश > भगोड़ा नित्यानंद गणेश चतुर्थी पर लॉन्च करेगा ‘रिजर्व बैंक ऑफ कैलासा’

भगोड़ा नित्यानंद गणेश चतुर्थी पर लॉन्च करेगा ‘रिजर्व बैंक ऑफ कैलासा’

0
383

भगोड़ा बाबा नित्यानंद स्वामी अब अपना खुद का केंद्रीय बैंक शुरू करने जा रहा है. इस बैंक का नाम रिजर्व बैंक ऑफ कैलासा होगा, जो बाबा के अपने घोषित देश कैलासा में होगा.
वहीं, भारत सरकार की एजेंसियां बाबा की तलाश कर रही हैं.
ऑनलाइन आई एक वीडियो में रेप के दोषी बाबा नित्यानंद ने एलान किया कि वह आधिकारिक तौर पर 22 अगस्त को गणेश चतुर्थी के अवसर पर अपने रिजर्व बैंक ऑफ कैलासा की करेंसी को लॉन्च करेगा.

यह भी पढ़ें: मोदी सरकार ने 3 हवाई अड्डों को 50 वर्षों के लिए निजी कंपनियों के हाथों में सौंपा

नित्यानंद ने कहा है कि एक देश के साथ मेमोरेंडम ऑफ अंडरस्टैंडिंग (MoU) पर भी हस्ताक्षर किए गए हैं.
उसने दावा किया है कि रिजर्व बैंक ऑफ कैलासा की आर्थिक नीति को तैयार कर लिया गया है.
वीडियो में उसने कहा कि गणपति की कृपा से वह जल्दी सभी जानकारी का खुलासा करेगा.

नित्यानंद ने कहा,

पूरी अर्थव्यवस्था और आर्थिक नीति, जो 300 पेज का दस्तावेज है, वह पूरी तरह डिजाइन और करेंसी, आर्थिक रणनीति के साथ तैयार है . वे कैसे आंतरिक मुद्रा का इस्तेमाल और बाहरी वर्ल्ड करेंसी एक्सचेंज करेंगे, सब कुछ वैध रूप से होगा. जो देश उनके रिजर्व बैंक की मेजबानी कर रहा है, उसके साथ MoU पर हस्ताक्षर किए गए हैं .
सब कुछ कानूनी तौर पर होगा.

खुद का देश बनाने का किया था ऐलान

रेप के दोषी और बाबा नित्यानंद की वीडियो पिछले साल वायरल हुई थी.
तब उन्होंने अपने देश कैलासा की स्थापना का एलान किया था.
हालांकि इसकी लेकेशन को लेकर अभी भी संदेह है.
लेकिन कैलासा की वेबसाइट का कहना है कि यह राष्ट्र बिना किसी बॉर्डर के दुनिया भर में आए बेदखल हो चुके हिंदुओं का होगा जिन्होंने अपने देश में प्रमाणिक तौर पर हिंदु धर्म का पालन करने का अधिकार खो दिया है.

अपनी शिष्या से दुष्कर्मा का आरोप

मालूम हो कि नित्यानंद पर अपनी पूर्व शिष्य के साथ दुष्कर्म करने का आरोप है.
गुजरात पुलिस ने मामले में उसके दो शिष्यों को भी गिरफ्तार किया था.
हालांकि, नित्यानंद पिछले साल नेपाल जाने के रास्ते इक्वाडोर भाग गया.
इसके बाद उसने घोषणा की थी कि उसने वहां खुद का एक द्वीप खरीदा है.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें