Gujarat Exclusive > देश-विदेश > विमानन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने कहा- आरोग्य सेतु ऐप में स्टेटस ग्रीन तो क्वारेंटाइन करने की जरूरत नहीं

विमानन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने कहा- आरोग्य सेतु ऐप में स्टेटस ग्रीन तो क्वारेंटाइन करने की जरूरत नहीं

0
1266

घरेलू उड़ानें शुरू होने की घोषणा के बीच नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने साफ किया है कि अगर विमान यात्रियों का आरोग्य सेतु ऐप में स्टेटस ग्रीन है तो उन्हें क्वारेंटाइन करने की जरूरत नहीं है. पुरी ने शनिवार को COVID-19 लॉकडाउन घरेलू उड़ानों से जुड़े नियमों पर हो रहे एक ऑनलाइन चर्चा में यह बात कही. इस दौरान उन्होंने सरकार के अंतरराष्ट्रीय उड़ानें शुरू करने को लेकर भी इशारे दिए.

कोविड-19 लॉकडाउन में हवाई सफर कर रहे यात्रियों को क्वारंटीन या आइसोलेशन में भेजे जाने की आशंकाओं से जुड़े सवाल पूछे जाने पर पुरी ने कहा, ‘मुझे नहीं लगता कि जिन यात्रियों के आरोग्य सेतु ऐप पर स्टेटस ग्रीन है, उन्हें क्वारेंटाइन करने की जरूरत है.’ पुरी ने यह भी कहा कि सरकार की कोशिश अगस्त से पहले बैन चल रही इंटरनेशनल फ्लाइट्स को भी ठीक-ठाक संख्या में शुरू करने की है.

विमानन मंत्री ने कहा कि घरेलू उड़ानें शुरू करने की घोषणा के बाद केरल, कर्नाटक और असम सहित छह राज्यों ने आग्रह किया है कि घरेलू उड़ानों से इन राज्यों में पहुंच रहे यात्रियों को क्वारेंटाइन किया जाएगा.

शनिवार को कर्नाटक सरकार की ओर से कहा गया है कि वायरस से सबसे ज्यादा प्रभावित राज्यों से आने वाले लोगों को सात दिन क्वारंटीन सेंटर और सात दिन घर पर आइसोलेशन में रहना होगा. हालांकि, बुजुर्गों, टर्मिनल बीमारी से जूझ रहे लोग, बच्चों और गर्भवती महिलाओं को इससे छूट मिलेगी. उन्होंने आरोग्य सेतु ऐप को ‘उम्दा कॉन्टैक्ट-ट्रेसिंग डिवाइस’ बताते हुए कहा कि लॉकडाउन के दौरान यात्रा को लेकर संशोधित नियमों के तहत आरोग्य सेतु ऐप पर जिनका स्टेटस ‘रेड’ दिखेगा, उन्हें एयरपोर्ट में प्रवेश ही नहीं करने दिया जाएगा.

उन्होंने कहा, ‘मुझे नहीं पता क्वारंटीन को लेकर इतना मुददा क्यों बनाया जा रहा है. भाई, ये घरेलू उड़ान की बात है. यहां भी वही कानून लागू होंगे, जो बस और ट्रेन ट्रैवल को लेकर लागू हैं. जो लोग कोविड-19 पॉजिटिव हैं, उन्हें फ्लाइट नहीं लेने दी जाएगी. क्वारंटीन मुद्दे से व्यावहारिक तरीके से निपटा जाएगा.’

कोरोना महामारी से दुनिया की लीडरशिप को सबक