Gujarat Exclusive > यूथ > TikTok बैन पर नुसरत जहां ने उठाए सवाल, कहा- जो बेरोजगार होंगे, उनका क्या?

TikTok बैन पर नुसरत जहां ने उठाए सवाल, कहा- जो बेरोजगार होंगे, उनका क्या?

0
1353

भारत में टिकटॉक सहित 59 चीनी ऐप्लिकेशन्स को बैन कर दिया गया है. इसको लेकर इसके यूजर्स में निराशा है तो वहीं कई लोग इसे सुरक्षा हित में लिया गया एक सही फैसला करार दे रहे हैं. टीएमसी सांसद नुसरत जहां ने टिकटॉक के भारत में बैन होने पर प्रतिक्रिया दी है. उन्होंने इसे एक जल्दीबाजी में लिया गया फैसला करार दिया है.

आज कोलकाता में इस्कॉन की ओर से आयोजित उल्टा रथ यात्रा सेलिब्रेशन में हिस्सा लेने पहुंची नुसरत जहां ने कहा, “टिकटॉक एक मनोरंजन ऐप है. यह जल्दीबाजी में लिया गया फैसला है. रणनीतिक योजना क्या है? उन लोगों का क्या जो बेरोज़गार होंगे? लोगों को नोटबंदी की तरह इसे भी झेलना पड़ेगा. मुझे बैन से कोई दिक्कत नहीं क्योंकि ये राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए है. लेकिन इन सवालों का जवाब कौन देगा?

उधर ट्विटर पर एक पोस्ट के जरिए टिक टॉक इंडिया के हेड निखिल गांधी ने कहा है, ”भारत सरकार ने 59 ऐप्स को बैन करने का फैसला लिया है. हम इस आदेश को मान रहे हैं. इसके लिए हम सरकारी एजेंसियों से मुलाकात भी करेंगे और अपनी सफाई पेश करेंगे.”

मालूम हो कि सोमवार को भारत सरकार ने टिकटॉक सहित 59 ऐसे ऐप्स पर प्रतिबंध लगा दिया जो चीन से संबंधित थे. इसमें टिकटॉक के अलावा भारत में पॉपुलर कई ऐप थे. यूसी ब्राउजर भी उन्हीं में से एक है जो अलीबाबा ग्रुप का एक बड़ा वेंचर है. इसके अलावा शेयरइट और कई मनोरंजक ऐप्स को बैन किया गया है.

चीन पर डबल स्ट्राइक की तैयारी में भारत, अब हाइवे प्रॉजेक्ट्स से बैन होंगीं चीनी कंपनियां