Gujarat Exclusive > देश-विदेश > पाकिस्तान में कोरोना की दूसरी लहर का खतरा, सार्वजनिक समारोह पर लगा प्रतिबंध

पाकिस्तान में कोरोना की दूसरी लहर का खतरा, सार्वजनिक समारोह पर लगा प्रतिबंध

0
142

पाकिस्तान पर कोरोना वायरस (Coronavirus) के संक्रमण की दूसरी लहर का खतरा मंडरा रहा है. विशेषज्ञों का मानना है कि पाकिस्तान (Pakistan) में कोरोना ने अपना रूप बदल लिया है और अब ये और ज्यादा खतरनाक हो गया है.

पाकिस्तान (Pakistan) में बीते दिनों कोरोनावायरस महामारी के नए मामलों में इजाफा देखने को मिला है, ऐसे में प्रधानमंत्री इमरान खान ने सार्वजनिक समारोहों पर प्रतिबंध लगा दिया है और साथ ही लोगों द्वारा मानक संचालन प्रक्रियाओं (एसओपी) के पालन की आवश्यकता की बात को भी दोहराया है.

यह भी पढ़ें: बिहार: सीएम नीतीश ने गृह मंत्रालय रखा अपने पास, तारकिशोर प्रसाद को वित्त मंत्रालय

इस्लामाबाद में वेंटिलेटर की कमी

पाकिस्तान (Pakistan) में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए लोगों से सेल्फ लॉकडाउन का पालन करने की अपील की जा रही है और आपस में सामाजिक दूरी का बना रखने को कहा जा रहा है. पिछले तीन दिनों में कोरोना मामलों की संख्या में अचानक बढ़ोत्तरी देखी गई है, जिसके चलते अस्पतालों में बिस्तर तेजी से भर रहे हैं और इस्लामाबाद में वेंटिलेटर की कमी पड़ गई है.

इस बार हर उम्र के लोग कोरोना की चपेट में आ रहे हैं. बूढ़े, बच्चे सभी की कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आ रही है. कोरोना और मौसमी बुखार का एक साथ होना जानलेवा साबित हो रहा है.

इमरान खान ने की अपील

डॉन न्यूज की रिपोर्ट के मुताबिक, सोमवार को राष्ट्रीय समन्वय समिति (एनसीसी) की एक बैठक के बाद देश को संबोधित करते हुए पाकिस्तान (Pakistan) के प्रधानमंत्री इमरान खान ने लोगों से मास्क पहनने और दूरी बनाए रखने का आग्रह किया. कोविड-19 की गंभीर स्थिति को देखते हुए उन्होंने सत्तारूढ़ पाकिस्तान (Pakistan) तहरीक-ए-इंसाफ के सार्वजनिक समारोहों को भी रद्द कर दिया और अन्य राजनीतिक दलों को नियमों का पालन करने को कहा.

प्रधानमंत्री ने कहा कि शादी-ब्याह का आयोजन केवल खुले स्थान में ही करने की अनुमति दी जाएगी और इनमें मेहमानों की संख्या 300 से अधिक नहीं मानी जाएंगी, जबकि फैक्ट्री, दुकानें, जिन पर लोगों की आजीविका निर्भर है, वे खुली रहेंगी.

कुल 3.61 लाख मामले

सोमवार तक पाकिस्तान (Pakistan) में कोरोना के 3 लाख 61 हजार मामले सामने आ चुके थे. हालांकि इसमें से 3.25 लाख लोग कोरोना पर विजय पाने में कामयाब रहे हैं. पाकिस्तान में कोरोना से सात हजार से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें