Gujarat Exclusive > गुजरात > पापी पेट का सवाल!, मोडासा में माता-पिता ने सिर्फ 7 हजार के लिए बच्चे को बेच दिया

पापी पेट का सवाल!, मोडासा में माता-पिता ने सिर्फ 7 हजार के लिए बच्चे को बेच दिया

0
223

मोडासा: कोरोना महामारी के कारण हजारों लोग अपनी नौकरी खो चुके हैं. लंबी तालाबंदी की वजह से भारतीय अर्थव्यवस्था अपने सबसे बुरे दौर से गुजर रही है. Parents sold the child in Modasa 7 thousand

इस बीच गुजरात से एक चौंकाने वाली घटना सामने आई है. जहां सिर्फ पेट भरने के लिए माता-पिता ने अपने 10 साल के बेटे को सिर्फ सात हजार रुपये में बेच दिया.

मोडासा से सामने आई चौंकाने वाली जानकारी Parents sold the child in Modasa 7 thousand

मोडासा के खंबिसर में एक बच्चा इधर-उधर भटक रहा था, इसी दौरान एक जागृत युवक ने बच्चे से पूछताछ की तो जानकारी सामने आई कि उसके माता-पिता ने कहा कि उसे 7,000 रुपये में पास के एक परिवार को बेच दिया है. Parents sold the child in Modasa 7 thousand

बच्चे की बात सुनने के बाद युवक चौंक गया और इसकी जानकारी अगम फाउंडेशन के हेतल पंड्या को दी.

जानकारी मिलने के बाद अगम फाउंडेशन के हेतल पंड्या ने बच्चे को बचाकर जिला बाल संरक्षण विभाग को सौंप दिया.

माता-पिता ने सिर्फ 7 हजार के लिए अपने बच्चे को बेच दिया Parents sold the child in Modasa 7 thousand

अगम फाउंडेशन के हेतल पंड्या और बाल संरक्षण अधिकारी ने बच्चे से पूछताछ की, उसने कहा कि वह मालपुर तालुका के एक ग्रामीण इलाके में रहता था.

उसके माता-पिता ने उसे खंबीसर के पास एक झुग्गी में रहने वाले परिवार को 7,000 रुपये में बेच दिया था. Parents sold the child in Modasa 7 thousand

बच्चे को खरीदने वाला श्रमिक परिवार उससे भी मजदूरी करवाता था.

अगम फाउंडेशन और बाल संरक्षण विभाग ने बच्चा बेचने वाले माता-पिता से संपर्क किया है.

इतना ही नहीं बच्चे को पढ़ाई के लिए एक अच्छा वातावरण प्रदान करने का भी प्रयास किया गया है. Parents sold the child in Modasa 7 thousand

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

गुजरात के आणंद में आर्थिक तंगी से परेशान परिवार ने की सामूहिक आत्महत्या की कोशिश, मां- बेटे की मौत