Gujarat Exclusive > देश-विदेश > एक दिन के ब्रेक के बाद 23 वें दिन फिर से बढ़ा पेट्रोल-डीजल के दाम

एक दिन के ब्रेक के बाद 23 वें दिन फिर से बढ़ा पेट्रोल-डीजल के दाम

0
2209

देश में कोरोना संकटकाल के बीच पेट्रोल और डीजल की कीमतों में लगातार वृद्धि दर्ज की जा रही है. कीमतों में वृद्धि का सिलसिला 22 वें दिन रुकने के बाद 23 वें दिन फिर से एक बार बढ़ गया जिसके बाद राजधानी दिल्ली में 80.43 पेट्रोल और डीजल 80.53 प्रति लीटर को पहुंच गया है.

राजधानी दिल्ली में 23 वें दिन एक बार फिर से पेट्रोल की कीमतों में 5 पैसे जबकि डीजल के दाम में 13 पैसे वृद्धि दर्ज की गई. बीते 23 दिनों में पेट्रोल 9.17 रुपये प्रति लीटर और डीजल 11.23 रुपये प्रति लीटर महंगा हुआ है.

माना जा रहा है कि कोरोना की वजह से लागू की गई तालाबंदी के दौरान सरकार की खाली हुई तिजोरी को भरने के लिए सरकार तेल की कीमतों पर भारी एक्साइज ड्यूटी लगा दी थी जिसके बाद से लगातार तेल की कीमतों में वृद्धि दर्ज की जा रही है. केंद्र सरकार ने मई महीने में पेट्रोल-डीजल के दामों पर भारी एक्साइज ड्यूटी लगा दी थी जिसके बाद पेट्रोल पर प्रति लीटर उत्पाद शुल्क 10 रुपये और डीजल पर प्रति लीटर उत्पाद शुल्क 13 रुपये बढ़ाया गया था. इतना ही नहीं दिल्ली सरकार ने भी लॉकडाउन के दौरान डीजल पर वैट की दर को बढ़ा दिया था.

देश में लगातार तेल की कीमतों में होने वाली वृद्धि ने एक नहीं कई रिकॉर्ड बनाए थे. देश में पहली बार पेट्रोल के मुकाबले डीजल महंगा हुआ था. इतना ही नहीं देश में पहली बार डीजल और पेट्रोल के दाम 80 रुपये के पार पहुंचे थे. जिससे कोरोना संकटकाल के बीच लोगों को दोहरी मार झेलनी पड़ रही थी.

देश में पेट्रोल और डीजल के दामों में होने वाली लगातार वृद्धि के बाद विपक्ष रास्ते पर उतर चुकी है और केंद्र की मोदी सरकार से तेल के दामों पर लगाम लगाने की मांग कर रही है.

दूसरे दिन भी दर्ज हुए 20 हजार के करीब कोरोना के नए मामले, 380 लोगों की मौत