Gujarat Exclusive > राजनीति > PM CARES FUND: चिदंबरम का सवाल – ‘5 दिनों में 3076 करोड़ किसने दिए’

PM CARES FUND: चिदंबरम का सवाल – ‘5 दिनों में 3076 करोड़ किसने दिए’

0
366

कोरोना महामारी के दौरान बनाए गए PM CARES FUND को लेकर कांग्रेस लगातार केंद्र की मोदी सरकार को सवालों के घेरे में डालती रही है. एक बार फिर PM CARES FUND को लेकर कांग्रेस ने मोदी सरकार पर हमला बोला है.

कांग्रेस ने एक बार फिर पीएम केयर्स फंड को लेकर मोदी सरकार पर सवाल उठाए हैं. पूर्व वित्त मंत्री और वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम ने दावा किया कि PM CARES FUND के ऑडिटर्स ने पुष्टि की है कि 26 से 31 मार्च, 2020 के बीच केवल 5 दिनों में फंड को 3076 करोड़ रुपये मिले.

पी चिदंबरम ने PM CARES FUND की रिपोर्ट पर कई ट्वीट किए हैं.

 

उन्होंने ट्वीट में कहा है- PM CARES FUND के ऑडिटर्स ने पुष्टि की है कि 26 से 31 मार्च, 2020 के बीच केवल 5 दिनों में फंड को 3076 करोड़ रुपये मिले लेकिन इन दयालु दाताओं के नाम प्रकट नहीं किए जाएंगे. क्यों? प्रत्येक अन्य एनजीओ या ट्रस्ट एक सीमा से अधिक राशि दान करने वाले दानकर्ताओं के नाम प्रकट करने के लिए बाध्य है. इस दायित्व से पीएम केयर्स फंड को छूट क्यों है. दान पाने वाला ज्ञात है. दान पाने वाले के ट्रस्टी ज्ञात है. तो ट्रस्टी,दानदाताओं के नाम उजागर करने से क्यों डर रहे हैं?

रिपोर्ट में क्या है

PM CARES FUND को लेकर जो ऑडिट रिपोर्ट दी गई है उसके मुताबिक, 2.25 लाख रुपए के साथ फंड की शुरूआत की गई। इशके बाद 27 मार्च से 31 मार्च के बीच यानी शुरूआत के पांच दिनों के अंदर 3,076.62 करोड़ रुपए का दान आया.

यह भी पढ़ें: चारू सिन्हा बनीं श्रीनगर में CRPF की पहली महिला IG

इसमें से 3075.85 करोड़ रुपए देश के दानकर्ताओं की ओर से दिए गए, वहीं 39.67 लाख रुपए का दान विदेशों से आया. फंड में जमा राशि पर 35 लाख से अधिक ब्याज भी मिला है. ‘सार्क एंड एसोसिएट्स’ नामक एक कंपनी ने ये ऑडिट किया है.

पुराने ट्वीट पर कसा तंज

कांग्रेस नेता और पूर्व वित्तमंत्री पी चिदंबरम ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 7 साल पुराने 2013 के एक ट्वीट पर रिट्वीट करते हुए तंज कसाते हुए अपने इस ट्वीट में लिखा- आदरणीय प्रधानमंत्री जी, मैं भी आपसे यही बात कहना चाहता हूं. दरअसल, 30 नवंबर, 2013 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने इस ट्वीट में तत्कालीन मनमोहन सरकार में वित्त मंत्री पी चिदंबरम को लेकर कहा था, “भारत की अर्थव्यवस्था मुश्किल में है, युवा को नौकरी चाहिए, अर्थव्यवस्था ठीक करने में ज्यादा समय दें, न कि राजनीति करें। चिदंबरम जी, प्लीज नौकरी देने में फोकस करिए.”

मालूम हो कि जिस वक्‍त PM मोदी ने पी चिदंबरम को राजनीति छोड़कर अर्थव्यवस्था पर ध्यान देने की सलाह दी थी, उस वक्‍त यानी वर्ष 2013 में नरेंद्र मोदी गुजरात के मुख्यमंत्री थे और पी चिदंबरम केंद्र सरकार में वित्त मंत्री थे। गुजरात के मुख्यमंत्री रहते हुए नरेंद्र मोदी ने ट्वीट के जरिए ये बात कही गई थी. तब पी. चिदंबरम देश के वित्त मंत्री थे और अब नरेंद्र मोदी देश के प्रधानमंत्री हैं.

महामारी से निपटने के लिए बना था PM CARES FUND

मालूम हो कि कोरोना वायरस के मामले आने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पीएम केयर्स फंड बनाया था. इसमें आम लोग भी दान कर सकते हैं. कांग्रेस समेत कई विपक्षी पार्टियां इसकी पारदर्शिता को लेकर सवाल उठाती रही है.

18 अगस्त को पीएम केयर्स फंड में जमा पैसों को राष्ट्रीय आपदा राहत कोष (NDRF) में ट्रांसफर करने का आदेश देने से सुप्रीम कोर्ट ने मना कर दिया था. याचिका में पीएम फंड में पारदर्शिता के अभाव में भी दलील दी गई थी. उसके बाद से लगातार विपक्ष सवाल खड़े करता रहा है.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें