Gujarat Exclusive > देश-विदेश > पीएम ने किया SII का दौरा, पूनावाला बोले- जुलाई तक 30-40 करोड़ वैक्सीन बनाना लक्ष्य

पीएम ने किया SII का दौरा, पूनावाला बोले- जुलाई तक 30-40 करोड़ वैक्सीन बनाना लक्ष्य

0
329

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) देश में कोरोना की वैक्सीन के विकास का जायजा लेने के लिए तीन चोटी के प्रयोगशालाओं का दौरा किया. प्रधानमंत्री (PM) ने आज अहमदबाद के जायडस बॉयोटेक पार्क, हैदराबाद के भारत बायोटेक के बाद पुणे स्थित सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया का भी दौरा किया. प्रधानमंत्री (PM) ने इस दौरान शोधकर्ताओं और वैज्ञानिकों से बातचीत की और वैक्सीन निर्माण में हुई प्रगति का जायजा लिया और संतुष्ठ नजर आए.

वहीं पुणे स्थित सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया के दौरे के बाद पीएम नरेंद्र मोदी (PM Modi) ने ट्वीट कर कहा कि सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया की टीम के साथ अच्छी बातचीत हुई है. उन्होंने अब तक अपनी प्रगति के बारे में विवरण साझा किया कि वे वैक्सीन निर्माण को लेकर आगे बढ़ने के लिए किस तरह की योजना तैयार की है. साथ ही उनकी विनिर्माण सुविधा का भी जायजा लिया. पुणे स्थित सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया के दौरे के बाद पीएम नरेंद्र मोदी दिल्ली के लिए रवाना हो गए.

 

यह भी पढ़ें: सिंघु बॉर्डर पर आंदोलन जारी रखेंगे किसान, कुछ संगठन निरंकारी ग्राउंड पहुंचे

इसी बीच सीरम इंस्टीट्यूट के सीईओ अदार पूनावाला ने पीएम मोदी के दौरे के बाद उनके जायजा के बारे में जानकारी दी. पूनावाला ने कहा,

ऑक्सफोर्ड से जुड़ी वैक्सीन पूरी तरह सुरक्षित है, हम हर रोज पांच से छह करोड़ डोज बना रहे हैं. लोगों तक वैक्सीन पहुंचाने के इंतजान किए जा रहे हैं. प्रधानमंत्री मोदी वैक्सीन की तैयारियों से संतुष्ट नजर आए. जुलाई तक हमारा 30 से 40 करोड़ वैक्सीन बनाने का लक्ष्य है.

पूनावाला ने कोविडशील्ड वैक्सीन पर कहा कि पीएम मोदी (PM Modi) से क्रियान्वयन योजना पर हुई चर्चा. उन्होंने कहा, “पीएम मोदी को पहले से वैक्सीन प्रोडक्शन के बारे में जानकारी थी. हमें उन्हें ज्यादा बताने की जरूरक ही नहीं पड़ी. हम उनकी जानकारी से प्रभावित थे. हमारी नई फैसिलिटी से प्रधानमंत्री बेहद प्रभावित दिखे.”

‘सीरम सबसे पहले टीका बनाएगा’

पूनावाला ने पीएम मोदी के दौरे के बाद कहा, ”पीएम मोदी से वैक्सीन की तैयारी को लेकर बात हुई. तीसरे चरण के ट्रायल पर हमारी नजर है. पीएम मोदी के सभी वैक्सीन कमियां और ताकत बताई. सीरम इंस्टीट्यूट सबसे पहले देश के लिए वैक्सीन बनाएगा.” बता दें कि सीरम इंस्टिट्यूट में ऑक्सफोर्ड और एस्ट्राजेनेका मिलकर कोवीशील्ड नाम की वैक्सीन बना रही हैं.

स्वदेशी वैक्सीन के लिए वैज्ञानिकों को बधाई

भारत बायोटेक में शोधकर्ताओं से मुलाकात के बाद पीएम ने ट्वीट कर कहा कि उन्होंने यहां के वैज्ञानिकों को स्वदेसी कोरोना वैक्सीन के डेवलपमेंट में अब मिली प्रगति के लिए बधाई दी है. पीएम ने कहा कि भारत बायोटेक की टीम आईसीएमआर के साथ मिलकर तेजी से काम कर रही है.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें