Gujarat Exclusive > देश-विदेश > पीएम मोदी ने साल के आखरी मन की बात से देश को किया संबोधित, साल भर में होने वाली घटनाओं का किया जिक्र

पीएम मोदी ने साल के आखरी मन की बात से देश को किया संबोधित, साल भर में होने वाली घटनाओं का किया जिक्र

0
254

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस साल के आखिरी मन की बात के जरिये देश को संबोधित किया. इस दौरान मोदी ने कहा है कि देश के युवाओं को अराजकता, अस्थिरता और जातिवाद से चिढ़ है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि आज का युवा जात-पात से ऊंचा सोचता है. ये युवा परिवाववाद और जातिवाद पसंद नहीं करते हैं. पीएम मोदी ने कहा कि आज का युवा सिस्टम को फॉलो करना पसंद करता है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि आज का पीढ़ी बेहद तेज-तर्रार है. ये पीढ़ी कुछ नया और कुछ अलग करने की सोचती है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि एक चीज तो निश्चित है आने वाले दशक में युवा भारत राष्ट्र निर्माण में अहम रोल अदा करेगा.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने युवाओं के आदर्श स्वामी विवेकानंद का जिक्र करते हुए कहा कि स्वामी विवेकानंद जी कहते थे कि युवावस्था की कीमत को नहीं आंका जा सकता है. ये जीवन का सबसे मूल्यवान कालखंड होता है. पीएम ने कहा कि आपका जीवन इस पर निर्भर करता है कि आप अपनी युवावस्था का उपयोग किस प्रकार करते हैं.

उन्होंने नए साल का जिक्र करते हुए कहा, “वर्ष 2019 की विदाई के साथ हम न सिर्फ नए साल में बल्कि नए दशक में प्रवेश करेंगे. इस दशक में देश के विकास को गति देने में वे लोग सक्रिय भूमिका निभाएंगे, जिनका जन्म 21वीं सदी में हुआ है.”

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देशवासियों से अपील की कि 2022 में देश के लोग स्थानीय सामानों को खरीदने पर जोर दें. पीएम ने कहा कि ये काम सरकारी नहीं होना चाहिए. देश के युवा छोटे-छोटे ग्रुप और संगठन बनाकर लोगों को स्थानीय सामान खरीदने पर जोर दें.

इतना ही नहीं मोदी ने मन की बात में कहा कि पिछले छह महीनों में संसद के दोनों सदनों की कार्यवाही काफी शानदार रही. लोकसभा ने 114 प्रतिशत और राज्यसभा ने 94 प्रतिशत काम किया. इतना ही नहीं मोदी ने मन की बात कार्यक्रम में साल के आखिरी सूर्य ग्रहण का भी जिक्र किया. उन्होंने कहा कि 26 तारीख को इस दशक का आखिरी सूर्य ग्रहण देखा. पीएम मोदी ने कहा कि भारत में खगोल विज्ञान का शानदार इतिहास रहा है.