Gujarat Exclusive > देश-विदेश > कोरोना के बढ़ते आंतक के बीच PM मोदी ने कहा, जब तक दवाई नहीं- तब तक ढिलाई नहीं

कोरोना के बढ़ते आंतक के बीच PM मोदी ने कहा, जब तक दवाई नहीं- तब तक ढिलाई नहीं

0
614
  • देश में कोरोना के बढ़ते आंतक के बीच पीएम मोदी ने शुरू किया जन आंदोलन
  • ट्विटर के जरिए शुरू होने वाले आंदोलन को लेकर पीएम ने कहा मिलकर साथ लड़ना होगा
  • कोरोना नियमों का पालन करने के बाद ही मिलेगी कामयाबी

देश में कोरोना के बढ़ते आतंक के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक ‘जन आंदोलन’ की शुरुआत की है. पीएम ने ट्वीट के जरिए इस अभियान की शुरुआत करते हुए लिखा “आइए कोरोना से लड़ने के लिए एकजुट हों!

हमेशा याद रखें मास्क जरूर पहनें. हाथ साफ करते रहें. सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें. दो गज की दूरी रखें.

ऐसा करने के बाद ही हम कोरोना के खिलाफ जारी जंग में कामयाबी हासिल कर पाएंगे.”

पीएम मोदी ने शुरू किया जन आंदोलन

पीएम मोदी ने आगामी त्योहारों, ठंड के मौसम और भारतीय अर्थव्यवस्था को ध्यान में रखते हुए आज से जन आंदोलन की शुरूआत की.

इस अभियान के आगाज के मौके पर उन्होंने एक नहीं बल्कि कई ट्वीट कर लोगों से आग्रह किया कि जब तक कोरोना की कोई वैक्सीन नहीं आ जाती तब तक ढिलाई नहीं दी जा सकती.

उन्होंने लोगों से अपील करते हुए कहा सावधानी ही फिलहाल कोरोना का इलाज है.

 

जब तक दवाई नहीं- तब तक ढिलाई नहीं

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरोना वायरस से बचाव संबंधी संदेशों के साथ कई तस्वीरों को भी अपने ट्विटर अकाउंट पर साझा किया है.

इनमें वह खुद गमछा लपेटे हुए हैं और हाथ जोड़कर लोगों से बचाव का आग्रह करते दिख रहे हैं. अभियान को धार देने के लिए उन्होंने #Unite2FightAgainstCorona हैशटैग किया है.

ताकि इस अभियान को ज्यादा से ज्यादा धार मिल सके.

इस बीच देश में एक बार फिर से कोरोना के 78 हजार से ज्यादा नए मामले सामने आए हैं. बीते 24 घंटों के दौरान एक हजार के करीब लोगों की कोरोना से मौत हो गई.

जिसके बाद देश में कुल कोरोना संक्रमितों की संख्या 68 लाख 35 हजार के पार पहुंच गई. वहीं कोरोना की वजह से एक लाख 5 हजार से ज्यादा लोगों की मौत दर्ज की गई है.

लेकिन कोरोना के बढ़ते आंतक के बीच राहत की खबर ये सामने आ रही है कि एक्टिव मामलों की संख्या में स्वस्थ हुए लोगों की संख्या में लगातार वृद्धि दर्ज की जा रही है.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

हाथरस गैंगरेप आरोपियों ने लिखा खत, कहा- रेप का नहीं बल्कि ऑनर किलिंग का है मामला