Gujarat Exclusive > देश-विदेश > विश्वभारती यूनिवर्सिटी का 100 साल, पीएम मोदी ने छात्र और शिक्षकों को किया संबोधित

विश्वभारती यूनिवर्सिटी का 100 साल, पीएम मोदी ने छात्र और शिक्षकों को किया संबोधित

0
250

अगले साल पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव होने वाला है. चुनाव से पहले भाजपा का पूरा ध्यान बंगाल पर केंद्रीत हो गया है. बीते दिनों अमित शाह और जेपी नड्डा बंगाल का दौरा कर सियासी पारा को गरम कर चुके हैं.

इस बीच आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बंगाल के विश्व भारती यूनिवर्सिटी के 100 साल पूरे होने के मौके पर आयोजित कार्यक्रम में छात्र और शिक्षको को संबोधित किया. PM Modi Vishwabharati University

देश के सबसे पुरानी यूनिवर्सिटी का 100 साल PM Modi Vishwabharati University

इस कार्यक्रम में पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ और केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक भी मौजूद रहे.

पीएम नरेंद्र मोदी ने अपने संबोधन में आत्मनिर्भर भारत पर जोर दिया और साथ में रवींद्रनाथ टैगोर के विजन को याद किया.

वेद से विवेकानंद तक भारत के चिंतन की धारा गुरुदेव के राष्ट्रवाद के चिंतन में भी मुखर थी और ये धारा अंतर्मुखी नहीं थी. मोदी ने कहा कि टैगोर भी आत्मनिर्भर भारत पर जोर दे रहे थे.

उनका भी सपना था कि भारत को इतना सशक्त जिससे दुनिया प्रेरणा ले. PM Modi Vishwabharati University

रवीन्द्रनाथ टैगोर भी आत्मनिर्भर भारत पर दिया था जोर

रवीन्द्रनाथ टैगोर द्वारा 1921 में स्थापित विश्व भारती, देश का सबसे पुराना विश्वविद्यालय है. नोबेल पुरस्कार विजेता टैगोर पश्चिम बंगाल की प्रमुख हस्तियों में एक माने जाते हैं.

टीएमसी अक्सर उनके नाम का इस्तेमाल करती है अब भाजपा भी टैगोर को अपना बनाने की कोशिश कर रही है. PM Modi Vishwabharati University

पीएम मोदी ने विश्वभारती यूनिवर्सिटी के 100 साल पूरे होने अपने संबोधन में कहा कि इन शिक्षण संस्थाओं ने भारत की आज़ादी के लिए चल रहे वैचारिक आंदोलन को नई ऊर्जा दी.

तना ही नहीं नई दिशा भी यहीं से दी गई. भक्ति आंदोलन से हम एकजुट हुए, ज्ञान आंदोलन ने बौद्धिक मज़बूती दी और कर्म आंदोलन ने हमें अपने हक के लिए लड़ाई का हौसला और साहस दिया.

एएमयू में पीएम मोदी ने लिया था हिस्सा PM Modi Vishwabharati University

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए संबोधित जहां युवाओं से भारत को आत्मनिर्भर बनाने की अपील की वहीं पीएम मोदी ने कहा कि आज पूरी दुनिया की नजर भारत पर है.

इसीलिए अब सबको मिलकर भारत को आगे बढ़ना है. आज युवा के पास बहुत कुछ करने का अवसर है. इस मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि पहले मुस्लिम बेटियों को स्कूल ड्रॉपआउट रेट 70% से ज्यादा था जो अब घटकर करीब-करीब 30% रह गया है. PM Modi Vishwabharati University

इसके पीछे की वजह थी कि पहले मुस्लिम बेटियां शौचायल की कमी की वजह से बीच में पढ़ाई छोड़ देती थीं. लेकिन अब हालात बदल रहे हैं.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

किसान आंदोलन: राष्ट्रपति से मिले राहुल गांधी, कहा- कृषि कानून को वापस लेना ही होगा