Gujarat Exclusive > देश-विदेश > दिल्‍ली हिंसा में पुलिस को मिली बड़ी सफलता, हेड कॉन्स्टेबल रतनलाल हत्या मामले में 7 आरोपी पकड़े गए

दिल्‍ली हिंसा में पुलिस को मिली बड़ी सफलता, हेड कॉन्स्टेबल रतनलाल हत्या मामले में 7 आरोपी पकड़े गए

0
342

दिल्‍ली हिंसा में शहीद हुए हेड कांस्‍टेबल रतनलाल की हत्‍या के मामले में पुलिस की एसआईटी को बड़ी सफलता हाथ लगी है. दिल्‍ली पुलिस की एसआईटी ने सात आरोपियों को धर दबोचा है. पकड़े गए आरोपियों के नाम सलीम मालिक (38), जलालुद्दीन (33), अय्यूब (35), आरिफ (27), युनूस (34), दानिश (23), सलीम खान (46) हैं.

मालूम हो कि दिल्‍ली हिंसा के दौरान 24 फरवरी को हेड कांस्टेबल रतनलाल शहीद हो गए थे. इस दौरान चार अन्‍य लोगों की भी मौत हो गई थी और 50 लोग घायल हो गए थे. हेड कांस्टेबल रतन लाल सहायक पुलिस आयुक्त, गोकलपुरी के कार्यालय से जुड़े हुए थे. पुलिस अधिकारी ने बताया कि प्रदर्शन के दौरान पुलिसकर्मियों पर किए गए पथराव में वह घायल हो गए थे. हेड कॉन्स्टेबल रतन लाल मूल रूप से राजस्थान के सीकर के रहने वाले थे.

शहीद रतन लाल उत्‍तर-पूर्वी दिल्‍ली के गोकुलपुरी क्षेत्र के मौजपुर इलाके में तैनात थे. हिंसक भीड़ ने उन पर हमला बोल दिया था, जिसमें वे बुरी तरह घायल हो गए थे. गंभीर अवस्‍था में उन्‍हें हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया, जहां उनकी मौत हो गई थी. रतनलाल के अलावा दिल्‍ली हिंसा में आईबी के कर्मचारी अंकित शर्मा की भी हत्‍या कर दी गई थी. पोस्‍टमॉर्टम रिपोर्ट में खुलासा हुआ कि अंकित शर्मा की बॉडी पर 400 बार चाकू से वार किए गए थे. जिस दिन हेड कांस्‍टेबल रतनलाल घायल हुए थे, उसी दिन दिल्ली पुलिस के शाहदरा के डीसीपी अमित शर्मा भी गंभीर रूप से घायल हुए थे.

लखनऊ पोस्टर मामला: सुप्रीम कोर्ट की बड़ी बेंच करेगी सुनवाई, HC के फैसले पर रोक नहीं