Gujarat Exclusive > गुजरात > गुजरात के सूरत में पुलिस की टीम पर हमला, कई पुलिसकर्मी घायल

गुजरात के सूरत में पुलिस की टीम पर हमला, कई पुलिसकर्मी घायल

0
7812

सरकार ने कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में शामिल स्वास्थ्यकर्मियों और सुरक्षाकर्मियों के साथ हिंसा को गैर जमानती अपराध बनाया है. साथ ही ऐसा करने वाले को सात साल की सजा या फिर जुर्माना लगाने का प्रावधान किया गया है. बावजूद इसके सुरक्षाकर्मियों पर हमले रूक नहीं रहे हैं. देश के कई हिस्सों से चिकित्साकर्मियों और पुलिस बल पर हमले की खबरें सामने आ रही है. ऐसा ही एक मामला गुजरात के सूरत शहर में सामने आया, जहां लॉकडाउन लागू करा रहे सुरक्षाकर्मियों पर लोगों ने हमला किया.

मिल रही जानकारी के अनुसार गुजरात के सूरत शहर मौजूद डिंडोली में आज सुबह लॉकडाउन लागू कराने की कोशिश कर रहे सुरक्षा कर्मियों पर कुछ स्थानीय लोगों ने कथित तौर पर पत्थर फेंके जिसमें एक पुलिसकर्मी घायल हो गया.

सूरत के पुलिस उपायुक्त आर पी बारोट ने बताया कि पुलिसकर्मियों पर हमला करने के आरोप में पांच लोगों को हिरासत में लिया गया है. उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस प्रकोप के मद्देनजर डिंडोली इलाके में एक स्थान पर बंद को प्रभावी बनाने के लिए पीसीआर वैन के पहुंचने पर कुछ स्थानीय लोग भड़क गए.

बारोट ने कहा, ‘हमें जब पता चला कि इलाके में लोग घूम रहे हैं और बंद के नियमों का पालन नहीं कर रहे हैं तो हमने वहां एक पीसीआर वैन भेजी. पुलिस ने जब लोगों से घर के भीतर रहने को कहा तो कुछ लोग भड़क गए और उन्होंने पुलिसकर्मियों पर पत्थर फेंकने शुरू कर दिए. इस घटना में एक पुलिसकर्मी को चोट आई है.

पुलिस पर हमला के मामले में पांच लोगों को हिरासत में लिया गया है. साथ ही कहा कि इलाके में अतिरिक्त पुलिस बल भेजा गया है और स्थिति नियंत्रण में है. वहीं, बता दें कि गुजरात में कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या साढ़े तीन हजार के पार पहुंच गई है. अभी तक 3548 मरीज पॉजिटिव पाए जा चुके हैं.

महाराष्ट्र और गुजरात पर लगा कोरोना का ग्रहण, दो राज्यों में 41 फीसदी मरीज