Gujarat Exclusive > राजनीति > महाराष्ट्र में राजनीतिक सरगर्मियां तेज, सीएम उद्धव ने बुलाई सभी सहयोगी दलों की बैठक

महाराष्ट्र में राजनीतिक सरगर्मियां तेज, सीएम उद्धव ने बुलाई सभी सहयोगी दलों की बैठक

0
1316

देश में जारी कोरोना संकट के बीच महाराष्ट्र की राजनीति में हलचल शुरू हो गई है. इस बीच मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने सहयोगी पार्टियों की बैठक बुलाई है. दरअसल, कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने मंगलवार को कहा था कि हम महाराष्ट्र में डिसिजन मेकर नहीं हैं. इस बयान के बाद महाराष्ट्र की राजनीति में भूचाल आ गया.

सीएम उद्धव की ओर से आनन-फानन में सहयोगियों की बैठक बुलाई गई है. हालांकि, शिवसेना के मुखपत्र सामना ने बुधवार को अपने संपादकीय में लिखा कि महाराष्ट्र में सरकार स्थिर है. शिवसेना का बयान उस समय आया है, जब एनसीपी चीफ शरद पवार ने पहले राज्यपाल बीएस कोश्यारी और फिर सीएम उद्धव ठाकरे से मुलाकात की थी. इसके बाद उद्धव सरकार पर संकट के बादल मंडराने के कयास लगाए जा रहे थे. संपादकीय में कहा गया है कि शरद पवार और संजय राउत ने राज्यपाल से मुलाकात कर उन्हें महामारी से निपटने के लिए उठाए गए कदमों की जानकारी दी. शरद पवार कई मौकों पर उद्धव ठाकरे से मातोश्री में मिल चुके हैं.

बीजेपी को आड़े हाथों लेते हुए संपादकीय में कहा गया है कि महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन की मांग करने वालों को गुजरात में ऐसी मांग करनी चाहिए, अगर उनमें हिम्मत है. राज्यपाल को ऐसी विपक्षी पार्टी की खिंचाई करनी चाहिए जो कोरोना पर राजनीति कर रही है. उद्धव सरकार ने छह महीने पूरे कर लिए हैं, ये लोग कह रहे थे कि सरकार 11 दिनों तक नहीं चलेगी.

दिल्ली का किसान अपने 10 मजदूरों के लिए बना मसीहा, हवाई जहाज से उनके घर बिहार भेजेगा