Gujarat Exclusive > राजनीति > केंद्र पर अर्थव्यवस्था चौपट करने का आरोप, राहुल ने कहा असत्याग्रही इसका दोष ईश्वर को दे रहे हैं

केंद्र पर अर्थव्यवस्था चौपट करने का आरोप, राहुल ने कहा असत्याग्रही इसका दोष ईश्वर को दे रहे हैं

0
340
  • राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर लगाया गंभीर आरोप
  • मोदी सरकार असंगठित अर्थव्यवस्था पर आक्रमण कर
  •  आपको गुलाम बनाने की कर रही है कोशिश 
  • नोटबंदी, जीएसटी और तालाबंदी यह है असंगठित अर्थव्यवस्था पर आक्रमण -राहुल गांधी 

कोरोना संकटकाल में भारतीय अर्थव्यवस्था अपने सबसे बुरे दौर से गुजर रही है. इस बीच जहां एक तरफ कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष लगातार अर्थव्यवस्था को एक बार फिर से पटरी पर लाने के लिए विशेषज्ञों से लगातार बातचीत कर रहे हैं.

वहीं दूसरी तरफ अर्थव्यवस्था को इस हालात में पहुंचाने के लिए केंद्र की मोदी सरकार को जिम्मेदार ठहरा रहे हैं.

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने अर्थव्यवस्था की हालत को लेकर आज एक ट्वीट कर केंद्र सरकार पर जमकर हमला बोला.

ट्वीट कर राहुल ने मोदी सरकार पर बोला हमला

इस मौके पर उन्होंने अपने ट्विटर अकाउंटर “राहुल गांधी अर्थव्यवस्था की बात” नामक एक वीडियो साझ करते हुए मोदी सरकार पर आरोप लगाया कि उन्होंने भारतीय अर्थव्यवस्था को कैसे नष्ट किया.

राहुल गांधी ने ट्वीट कर लिखा- “जो आर्थिक त्रासदी देश झेल रहा है उस दुर्भाग्यपूर्ण सच्चाई की आज पुष्टि हो जाएगी: भारतीय अर्थव्यवस्था 40 वर्षों में पहली बार भारी मंदी में है.

‘असत्याग्रही’ इसका दोष ईश्वर को दे रहे हैं. सच जानने के लिए मेरा वीडियो देखें.”

 

मोदी सरकार असंगठित अर्थव्यवस्था पर कर रही है आक्रमण

3 मिनट 38 सेकंड का वीडियो जारी कर मोदी सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि भाजपा सरकार ने असंगठित अर्थव्यवस्था पर आक्रमण कर, आपको गुलाम बनाने की कोशिश कर रही है.

6 सालों से भाजपा सरकार ने असंगठित अर्थव्यवस्था पर आक्रमण किया है.

नोटबंदी, गलत जीएसटी और कोरोनो वायरस पर काबू पाने के लिए लागू किए गए लॉकडाउन ने राष्ट्रीय अर्थव्यवस्था को चौपट कर दिया है.

यह भी पढ़ें: राहुल गांधी ने व्हाट्सएप और भाजपा के बीच सांठगांठ के आरोप लगाए

आपको गुलाम बनाने की मोदी सरकार कर रही है कोशिश

असंगठित अर्थव्यवस्था को खत्म करने की मोदी सरकार कोशिश कर रही है. क्योंकि देश में असंगठित अर्थव्यवस्था से जुड़े लोग बड़े पैमाने पर लोगों को रोजगार दे रहे हैं.

लेकिन मोदी सरकार इन्हे खत्म कर लोगों को गुलाम बनाने की कोशिश कर रही है.

उन्होंने अपने वीडियो में लोगों से अपील करते हुए कहा कि लोगों को इसे पहचाना होगा और मोदी सरकार के खिलाफ एकजुट होकर लड़ना होगा.

राहुल ने मन की बात प्रोग्राम पर बोला था हमला

इससे पहले कल राहुल गांधी ने पीएम मोदी की मन की बात पर हमला बोलते हुए कहा था.

मन की बात प्रोग्राम खत्म होने के कुछ मिनटों बाद राहुल ने ट्वीट पीएम मोदी पर हमला बोलते हुए कहा छात्र परीक्षा पर चर्चा करने की उम्मीद करते थे, लेकिन वह खिलौना पर चर्चा कर चले गए.

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने ट्वीट कर लिखा, ”JEE-NEET के उम्मीदवार चाहते थे कि पीएम मोदी परीक्षा पर चर्चा करें, लेकिन पीएम ने खिलौने पर चर्चा की.”

गौरतलब है कि कांग्रेस कोरोना संकटकाल में जेईई-नीट परीक्षा को लेकर विरोध कर रही है. ऐसे में माना जा रहा था कि पीएम मोदी मन की बात के जरिए इस अहम परीक्षा का उल्लेख करेंगे.

लेकिन देशवासियों के साथ संबोधन में पीएम मोदी ने इस परीक्षा का कोई जिक्र नहीं किया.

पीएम मोदी ने अपने संबोधन में परीक्षा को लेकर होने वाले विरोध का कोई उल्लेख नहीं किया जिससे कांग्रेस नेता राहुल गांधी को मोदी पर हमला बोलने का नया मौका मिल गया है.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

‘मन की बात’ पर राहुल गांधी का तंज, परीक्षा पर चर्चा के बजाय PM ने की खिलौनों पर चर्चा