Gujarat Exclusive > गुजरात > गुजरात में कोरोना को लेकर सियासत हुई तेज, वेंटिलेटर के बाद अब N95 मास्क को लेकर बढ़ा विवाद

गुजरात में कोरोना को लेकर सियासत हुई तेज, वेंटिलेटर के बाद अब N95 मास्क को लेकर बढ़ा विवाद

0
1743

गांधीनगर: वैश्विक महामारी कोरोना गुजरात के साथ ही साथ दुनिया में भयंकर कहर ढा रहा है. वहीं गुजरात में इन दिनों बीजेपी और कांग्रेस कोरोना को लेकर आमने- सामने आ गई है. पहले तो वेंटिलेटर विवाद को लेकर उसके बाद अब थ्री लेयर मास्क और N-95 मास्क जो गुजरात में अमूल पार्लर पर बेचा जा रहा है. गुजरात सरकार द्वारा अमूल पार्लर पर बिकने वाले मास्क को 15 रुपया नफा कमाने का कांग्रेस महासचिव निशित व्यास ने आरोप लगाया है.

निशित व्यास ने आरोप लगाया कि गुजरात सरकार आत्मनिर्भर गुजरात की बात कर रही और मुनाफा कमाकर भाजपा नेताओं को आत्मनिर्भर बनाना चाहती है. इन मास्क की कीमतें राज्य सरकार की सरकारी एजेंसी द्वारा तय की गई हैं. 30 मार्च को गुजरात मेडिकल कॉरपोरेशन लिमिटेड के द्वारा कोरोना महामारी से बचने के लिए सरकारी विभाग द्वारा खरीदे जाने वाले विभिन्न उत्पादों की कीमतें तय की हैं. N95 मास्क की कीमत 49.61 रुपये है. जबकि अमूल पार्लर में वितरित एन 95 मास्क की कीमत 65 रुपया में बेची जा रही है.

इन आरोपों पर बीजेपी के प्रवक्ता प्रशांत वाला ने जवाब दिया. उन्होंने कहा कि आम तौर पर N95 मास्क मार्केट में 150 से 250 रुपये की कीमत में मिलता है. N95 मास्क की खुदरा यानी बेचने वाली कीमत में जीएसटी और ट्रांसपोर्टेशन का खर्च भी शामिल है. इसलिए N95 मास्क 65 रुपये में दिया जा रहा है.

सूरत: एडवांस बुकिंग के बाद ही सैलून में मिलेगी एंट्री, PPE किट पहन कर किया जा रहा काम