Gujarat Exclusive > गुजरात > उत्तरायण के त्यौहार पर भी जारी सियासत, CAA के विरोध और समर्थन उड़ाई गई पतंग

उत्तरायण के त्यौहार पर भी जारी सियासत, CAA के विरोध और समर्थन उड़ाई गई पतंग

0
731

अहमदाबाद: गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रुपाणी ने जहां आज नागरिकता संशोधन कानून के समर्थन वाले स्लोगन की पतंग को आसमान में उड़ाते हुए नजर आए वहीं कांग्रेस भी त्यौहारों के इस मौके पर सरकार को घेरने से पीछे नहीं हट रही, आज वैसे तो पूरे गुजरात में उत्तरायण के त्यौहार का जश्न मनाया जा रहा है. लेकिन बीजेपी-कांग्रेस दोनों त्यौहार के मौसम में एक दूसरे पर हमला बोलते हुए नजर आ रहे हैं.

अहमदाबाद के खोखरा इलाके में गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रुपाणी बीजेपी कार्यकर्ताओं के घर पहुंचकर जमकर पतंग के साथ पेंचबाजी की. इस मौके पर उन्होंने नागरिकता कानून के समर्थन में लिखे गए स्लोगन वाली पंतग को आसमान में उड़ाया. इस मौके पर उन्होंने एक बार फिर से कांग्रेस पर हमला बोलते हुए कहा कि कांग्रेस इस कानून को लेकर लोगों में भ्रम फैलाने का काम कर रही है. वहीं कांग्रेस और अहमदाबाद की अलग-अलग सामाजिक संस्थाओं की ओर से आज नागरिकता कानून के विरोध वाली पंतग को आसमन में उड़ाकर इस कानून का विरोध किया. गुजरात कांग्रेस के प्रवक्ता और बेहरामपुरा वार्ड के पार्षद बदरुद्दीन शेख ने आज अपने घर पर नागरिकता कानून के विरोध में लिखी गई स्लोगन वाली पतंग को आसमान में उड़ाकर इस त्यौहार का जश्न मनाया और पतंगबाजी कर इस कानून का विरोध भी किया. इस मौके पर शाहपुर और जमालपुरा विधानसभा क्षेत्र के कांग्रेस विधायक इमरान खेड़ावाला और ग्यासुद्दीन शेख के साथ ही साथ अहमदाबाद शहर कांग्रेस के अध्यक्ष शशिकांत पटेल, AMC में विपक्ष के नेता दिनेश शर्मा के साथ ही साथ भारी तादाद में कांग्रेसी कार्यकर्ता मौजूद रहे.

इस मौके पर गुजरात कांग्रेस प्रवक्ता बदरुद्दीन शेख ने कहा महंगाई और भ्रष्टाचार से लोगों को ध्यान भटकाने के लिए ऐसे कानून लाये जा रहे हैं. इतना ही नहीं उन्होंने कहा कि ये कानून संविधान के मूलभावना के खिलाफ है इसलिए हम मांग कर रहे हैं इसे वापस लिया जाए. उन्होंने देश के प्राधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर हमला बोलते हुए कि गुजरात में मुख्यमंत्री रहते हुए मोदी ने कई उत्सवों को शुरु किया था वह एक इवेंट मैनेजर हैं. गुजरात की पॉलिसी को पूरे देश में लागू करने की तैयारी कर रहे हैं ताकि असल मुद्दों से लोगों का ध्यान भटकाया जा सके और लोग त्यौहार और उत्सवों में उलझे रहें.

गौरतलब हो कि पिछले दिनों गुजरात विधानसभा में नागरिकता कानून के समर्थन में प्रस्ताव पास कर गुजरात पहला राज्य बन गया है. विधानसभा में जहां कांग्रेस ने इस कानून को संविधान विरोधी बताया था वहीं बीजेपी इस कानून को लेकर कांग्रेस को भ्रम फैलाने वाली पार्टी बताया था. ऐसे में उत्तरायण के मौके पर भी गुजरात में पतंग के जरिये सियासत शुरु हो गई है. त्यौहार के जश्न के साथ ही साथ इस कानून का विरोध और सपोर्ट भी किया जा रहा है.

बाबा नित्यानंद के साथ मिसेज इंडिया रश्मि शाह ने गुजारे 31 दिन, देखें वीडियो