Gujarat Exclusive > देश-विदेश > राजस्थान में दलित युवकों के साथ दरिंदगी के बाद शुरु हुई सियासत, आरोप प्रत्यारोप का दौर जारी

राजस्थान में दलित युवकों के साथ दरिंदगी के बाद शुरु हुई सियासत, आरोप प्रत्यारोप का दौर जारी

0
246

राजस्थान के नागौर जिले में कथित रूप से चोरी करते पकड़े गए दो युवकों की बेरहमी से पिटाई का मामला सामने आया है. चोरी के आरोपी युवकों के साथ हुई दरिंदगी का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल है, जिसमें एक युवक को तीन लोग पीट रहे हैं और इस दौरान एक शख्स स्क्रू ड्राइवर पर पेट्रोल लगाकर युवक प्राइवेट पार्ट में डाल रहा है. बताया जा रहा है कि जिन युवकों को पीटा गया वह दलित समुदाय के हैं. वीडियो सामने आने के बाद एक बार फिर दलित उत्पीड़न को लेकर बहस शुरू हो गई है. कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने भी ट्वीट कर इस घटना की आलोचना की है और राज्य सरकार से एक्शन लेने की बात कही है.

पांचौड़ी थाने के थाना प्रभारी राजपाल सिंह ने बताया कि घटना रविवार को एक दुपहिया वाहन कंपनी के शोरूम में हुई. शोरूम के कर्मचारियों ने कथित तौर पर चोरी करते पकड़े गए दो लोगों से बेरहमी से मारपीट की और इसका वीडियो भी बनाया. वीडियो सामने आने के बाद पीड़ितों ने बुधवार को मामला दर्ज करवाया. उन्होंने कहा कि पीड़ितों के अलावा एजेंसी की ओर से दोनों के खिलाफ पैसे चुराने के आरोप में मामला दर्ज करवाया गया है. थाना प्रभारी ने कहा कि मारपीट के संबंध में पांच लोगों को हिरासत में लिया गया है.

भाजपा ने कांग्रेस सरकार को घेरा

दलित युवकों की इस तरह की गई पिटाई के बाद भारतीय जनता पार्टी ने कांग्रेस सरकार पर निशाना साधना शुरू कर दिया है. भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया का कहना है कि कांग्रेस लगातार लोक कल्याणकारी सरकार होने का दावा करती है, लेकिन ये निंदनीय है. इस मामले में सरकार को सख्त से सख्त कदम उठाना चाहिए. वहीं, बीजेपी नेता राजेंद्र राठौड़ ने आरोप लगाया कि कांग्रेस सरकार दलितों की सुरक्षा के प्रति गंभीर नहीं है.