Gujarat Exclusive > राजनीति > कृषि कानून: विपक्षी दल के 5 नेता कल राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से करेंगे मुलाकात

कृषि कानून: विपक्षी दल के 5 नेता कल राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से करेंगे मुलाकात

0
337

केंद्र की मोदी सरकार द्वारा पिछले दिनों पारित किए गए तीन कृषि कानून के खिलाफ किसानों का प्रदर्शन जारी है. केंद्र की मोदी सरकार किसानों के विरोध को देखते हुए बीच का रास्ता खोज रही है.

लेकिन किसानों ने साफ कर दिया है कि कानून रद्द करने से नीचे कोई बात स्वीकार नहीं. इस बीच विपक्ष का एक प्रतिनिधिमंडल कल एक बार फिर से राष्ट्रपति से मुलाकात करेगा.

विपक्षी दल के 5 नेता कल राष्ट्रपति से करेंगे मुलाकात President opposition meet

कोरोना महामारी की वजह से विपक्षी दल के 5 नेताओं को राष्ट्रपति से मुलाकात की अनुमति दी गई है. जिसमें कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी, एनसीपी प्रमुख शरद पवार, सीपीआई (एम) के महासचिव सीताराम येचुरी समेत 5 नेता कल शाम 5 बजे राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मिलेंगे. राष्ट्रपति कोविंद से विपक्षी नेताओं की होने वाली इस मुलाकात की जानकारी सीताराम येचुरी ने दी.

कृषि कानून को लेकर इससे पहले भी की जा चुकी है मुलाकात  President opposition meet

गौरतलब है कि कृषि कानून को जब राज्यसभा में बहस के लिए रखा गया था उस दौरान विपक्ष ने जमकर हंगामा किया था जिसके बाद सभापति ने कई विपक्षी सांसदों को निलंबित कर दिया था.

इस मामले के बाद राज्यसभा में कांग्रेस के नेता गुलाम नबी आजाद की अगुवाई में विपक्षी दल का एक प्रतिनिधिमंडल ने उस दौरान भी राष्ट्रपति से मुलाकात कर कृषि कानून पर हस्ताक्षर नहीं करने की मांग की थी. President opposition meet

किसान बीते 13 दिनों से कृषि कानून के खिलाफ आंदोलन कर रहे हैं. पंजाब हरियाणा के किसान सिंधु बॉर्डर पर डंटे हुए हैं. वहीं उत्तर भारत के किसान भी कृषि कानून का विरोध कर रहे हैं.

किसानों ने आज भारत बंद का ऐलान किया था. जिसका काफी असर दिखाई दिया किसानों के साथ केंद्र सरकार कल 6 वें दौर की बैठक करने वाली है. President opposition meet

उससे पहले अमित शाह एक अहम बैठक किसानों के साथ कर रहे हैं. लेकिन किसान संगठन साफ कर चुके हैं कि कानून को रद्द करने से नीचे कुछ मंजूर नहीं.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

किसानों के समर्थन में अन्ना हजारे, कहा-किसानों की मांग की जाए पूरी