Gujarat Exclusive > राजनीति > किसान आंदोलन: कांग्रेस को नहीं मिली मार्च की अनुमति, हिरासत में प्रियंका गांधी

किसान आंदोलन: कांग्रेस को नहीं मिली मार्च की अनुमति, हिरासत में प्रियंका गांधी

0
503

केंद्र की मोदी सरकार द्वारा लागू तीनों कृषि कानूनों के खिलाफ देशभर के किसान विरोध प्रदर्शन कर रहे है. राजधानी दिल्ली की अलग-अलग सीमाओं पर डंटे किसान कानून को रद्द करने की मांग कर रहे हैं.

किसानों के साथ ही साथ मोदी सरकार को विपक्ष के विरोध का सामना करना पड़ रहा है. Priyanka Gandhi police custody

किसानों के आंदोलन का आज 29 वां दिन है इस बीच कांग्रेस ने पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी के नेतृत्व में कृषि कानूनों के खिलाफ विजय चौक से राष्ट्रपति भवन तक मार्च निकालने का फैसला किया है.

कांग्रेस को पुलिस ने नहीं दी मार्च की इजाजत Priyanka Gandhi police custody

राहुल गांधी के मार्च को दिल्ली पुलिस ने इजाजत नहीं दी है. दिल्ली पुलिस के अतिरिक्त डीसीपी दीपक यादव ने कहा कि आज राष्ट्रपति भवन में कांग्रेस के मार्च के लिए कोई अनुमति नहीं दी गई है.

हालांकि, ज्ञापन सौंपने राष्ट्रपति भवन जाने वाले तीन नेताओं को जाने दिया जाएगा. इस बीच जानकारी सामने आ रही है कि कांग्रेस बिना पुलिस अनुमति के मार्च निकालने का फैसला किया था जिसे पुलिस ने रोक दिया है और महासचिव प्रियंका गांधी सहित कई कांग्रेसी नेताओं को हिरासत में ले लिया है.

पुलिस की हिरासत में प्रियंका गांधी Priyanka Gandhi police custody

विजय चौक से राष्ट्रपति भवन को निकलने वाली प्रियंका गांधी को पुलिस ने हिरासत में ले लिया. इस दौरान प्रियंका ने मोदी सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि सरकार अपने जिद पर अड़ी है.

आज जो भी सरकार से सवाल करता है, उन्हें देशद्रोही बता दिया जाता है. इतना ही नहीं मोदी सरकार पर प्रियंका ने हमला करते हुए कहा कि सरकार के दिल में किसानों के लिए कोई इज्जत नहीं है.

गौरतलब है कि कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों का घमासान जारी है. किसान बीते 29 दिनों से राजधानी दिल्ली के अलग-अलग बॉर्डर पर डटे हुए हैं. सरकार और किसानों के बीच में कई दौर की बातचीत हो चुकी है.

बावजूद इसके कोई ठोस नतीजा नहीं निकला. किसान तीनों कृषि कानूनों को वापस करने की मांग पर अड़े हुए हैं. राहुल गांधी के नेतृत्व में कांग्रेस मार्च करने जा रही है.

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी की अगुवाई में पार्टी के वरिष्ठ नेता और सांसद राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को दो करोड़ किसानों के हस्ताक्षरों के साथ ज्ञापन सौंपेंगे. Priyanka Gandhi police custody

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

हरियाणा CM को काला झंडा दिखाना पड़ा महंगा, 13 किसानों पर हत्या की कोशिश का मामला दर्ज