Gujarat Exclusive > राजनीति > विकास की गिरफ्तारी पर प्रियंका गांधी ने उठाए सवाल, मिलीभगत का लगाया आरोप

विकास की गिरफ्तारी पर प्रियंका गांधी ने उठाए सवाल, मिलीभगत का लगाया आरोप

0
905

कानपुर के कुख्यात आरोपी विकास दुबे की गिरफ्तारी पर विपक्ष लगातार सवाल खड़ा कर रहा है कि कैसे अचानक दूसरे राज्य से विकास की गिरफ्तारी हो जाती है. उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव, मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह के बाद अब कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने योगी सरकार पर हमला बोला है और सरकार पर मिलीभगत का आरोप लगाया है.

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने कानपुर के कुख्यात आरोपी विकास दुबे की गिरफ्तारी की खबर सुनने के बाद अपने ट्विटर अकाउंट पर लिखा- कानपुर के जघन्य हत्याकांड में यूपी सरकार को जिस मुस्तैदी से काम करना चाहिए था, वह पूरी तरह फेल साबित हुई. अलर्ट के बावजूद आरोपी का उज्जैन तक पहुंचना, न सिर्फ सुरक्षा के दावों की पोल खोलता है बल्कि मिलीभगत की ओर इशारा करता है.

इतना ही नहीं उन्होंने एक अन्य ट्वीट में आरोप लगाते हुए कहा कि- तीन महीने पुराने पत्र पर ‘नो एक्शन’ और कुख्यात अपराधियों की सूची में ‘विकास’ का नाम न होना बताता है कि इस मामले के तार दूर तक जुड़े हैं. यूपी सरकार को मामले की CBI जांच करा सभी तथ्यों और प्रोटेक्शन के ताल्लुकातों को जगज़ाहिर करना चाहिए.

गौरतलब हो कि 7 दिनों से फरार चल रहे विकास दुबे की अचानक दूसरे राज्य गिरफ्तारी की खबर सामने आने के बाद विपक्ष सवाल खड़ा कर रहा है. इस मामले को लेकर अखिलेश यादव ने कहा कि विकास ने आत्मसमर्पण है या गिरफ्तारी? वहीं दिग्विजय विकास की गिरफ्तारी पर भाजपा के एक वरिष्ठ नेता पर आरोप लगाते हुए कहा कि यह प्लान के तहत किया गया सरेंडर है. वहीं प्रियंका भी अब गिरफ्तारी पर सवाल खड़ा करती हुई नजर आ रही हैं.

विकास की गिरफ्तारी पर दिग्विजय ने BJP के वरिष्ठ नेता पर लगाया गंभीर आरोप