Gujarat Exclusive > राजनीति > कृषि कानून को वापस लेने की मांग पर अड़े किसान, राहुल गांधी का तंज क्या खाक निकालेंगे हल?

कृषि कानून को वापस लेने की मांग पर अड़े किसान, राहुल गांधी का तंज क्या खाक निकालेंगे हल?

0
325

देश के किसान नए कृषि कानून के खिलाफ आंदोलनरत हैं. दिल्ली कूच पर अड़े किसान राजधानी दिल्ली के बॉर्डरों पर डेरा जमाए बैठे हुए हैं.Rahul Gandhi Agricultural Law

इस बीच आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने मासिक प्रोग्राम मन की बात में किसानों को संबोधित करते हुए नए कृषि कानून के फायदे गिनाया बावजूद इसके किसान अपनी मांग पर अड़े हुए हैं.

पंजाब और हरियाणा के किसान सिंघु और टिकरी सीमा पर डटे हुए हैं. वहीं उत्तर प्रदेश की सीमा पर भी किसान डेरा डाल रहा था.

इस बीच कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने किसानों के बहाने मोदी सरकार पर जमकर हमला बोला. Rahul Gandhi Agricultural Law

राहुल गांधी ने ट्वीट कर बोला हमला

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने केंद्र की मोदी सरकार पर हमला बोलते हुए ट्वीट कर लिखा “वादा था किसानों की आय दुगनी करने का, मोदी सरकार ने आय तो कई गुना बढ़ा दी लेकिन अदानी-अंबानी की!

जो काले कृषि क़ानूनों को अब तक सही बता रहे हैं, वो क्या ख़ाक किसानों के पक्ष में हल निकालेंगे? अब होगी #किसान_की_बात.”

 

यह भी पढ़ें: हैदराबाद निकाय चुनाव: चुनावी मैदान में उतरे अमित शाह, सिकंदराबाद में रोड शो

प्रदर्शनकारी अब भी दिल्ली के बॉर्डर पर जमे हुए हैं Rahul Gandhi Agricultural Law

किसान बीते दिनों केंद्र की मोदी सरकार की ओर लागू कृषि कानूनों के खिलाफ दिल्ली में सिंघु बॉर्डर पर धरना-प्रदर्शन कर रहे हैं. Rahul Gandhi Agricultural Law

विरोध प्रदर्शन करने वाले किसानों से सरकार ने बातचीत का प्रस्ताव रखा था. इस प्रस्ताव को किसानों ने ठुकरा दिया है. किसान अपना विरोध दिल्ली-हरियाणा के सिंधु बॉर्डर पर जारी रखेंगे.

किसान संगठनों का कहना है कि वह बुराड़ी के निरंकारी समागम मैदान नहीं जाएंगे. जब तक सरकार कृषि कानून वापस लेने का आश्वासन नहीं देगी.

गौरतलब है कि कांग्रेस नेता राहुल गांधी इससे पहले भी केंद्र सरकार पर हमला बोल चुके हैं. बीते दिनों राहुल गांधी ने ट्वीट कर लिखा “PM को याद रखना चाहिए था जब-जब अहंकार सच्चाई से टकराता है,

पराजित होता है. सच्चाई की लड़ाई लड़ रहे किसानों को दुनिया की कोई सरकार नहीं रोक सकती. मोदी सरकार को किसानों की माँगें माननी ही होंगी और काले क़ानून वापस लेने होंगे.

ये तो बस शुरुआत है!” Rahul Gandhi Agricultural Law

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

किसान आंदोलन के बीच PM की ‘मन की बात’, नए कानूनों से दूर होगी किसानों की परेशानी