Gujarat Exclusive > राजनीति > किसान आंदोलन: राहुल गांधी ने कहा- मोदी सरकार किसानों की आय कम करना चाहती है

किसान आंदोलन: राहुल गांधी ने कहा- मोदी सरकार किसानों की आय कम करना चाहती है

0
353

केंद्र की मोदी सरकार द्वारा लागू तीनों कृषि कानूनों के खिलाफ देशभर के किसान विरोध प्रदर्शन कर रहे है. राजधानी दिल्ली की अलग-अलग सीमाओं पर डंटे किसान कानून को रद्द करने की मांग कर रहे हैं. Rahul Gandhi allegation

किसानों के आंदोलन का आज 16 वां दिन है इस बीच कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने केंद्र की मोदी सरकार पर बड़ा आरोप लगाते हुए कहा कि मोदी सरकार किसानों की आय कम करना चाहती है.

राहुल ने ग्राफ साझा कर लगाया आरोप  Rahul Gandhi allegation

राहुल गांधी ने अपने इस ट्वीट के साथ एक मीडिया रिपोर्ट को भी साझा किया है. जिसमें दावा किया गया है कि देश में पंजाब और हरियाणा के किसान सबसे ज्यादा कमाई करते हैं.

वहीं अगर सबसे कम कमाई करने वाले किसानों की बात की जाए तो इसमें सबसे पहला नाम बिहार के किसानों का आता है.

राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि वह हरियाणा और पंजाब के किसानों की कमाई बिहार के किसानों जिनती करना चाहते हैं.

ट्वीट कर राहुल ने मोदी सरकार को घेरा Rahul Gandhi allegation

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने ट्वीट कर लिखा ” किसान चाहता है कि उसकी आय पंजाब के किसान जितनी हो जाए.

मोदी सरकार चाहती है कि देश के सब किसानों की आय बिहार के किसान जितनी हो जाए.” Rahul Gandhi allegation

गौरतलब है कि राहुल गांधी इससे पहले कोरोना वैक्सीन, कोरोना महामारी, चीन सीमा विवाद और कृषि कानून को लेकर केंद्र की मोदी सरकार पर लगातार हमला बोल रहे हैं.

किसान आंदोलन के बीच बीते दिनों विपक्षी दल के जिन 5 नेताओं ने राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मुलाकात की थी उसमें राहुल गांधी भी शामिल थे. Rahul Gandhi allegation

राष्ट्रपति से मुलाकात करने के बाद राहुल गांधी ने ट्वीट कर लिखा था “देश का किसान समझ गया है कि मोदी सरकार ने उन्हें धोखा दिया है और अब वो पीछे नहीं हटने वाला क्योंकि वो जानता है कि अगर आज समझौता कर लिया तो उसका भविष्य नहीं बचेगा. किसान हिंदुस्तान है! हम सब किसान के साथ हैं, डटे रहिए.”

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर लगाया आरोप, कहा- गरीबों का मौलिक अधिकार छीना जा रहा