Gujarat Exclusive > राजनीति > ‘GDP में गिरावट, देश में कोरोना के सबसे ज्यादा मामले लेकिन मोदी सरकार के लिए सब चंगा सी’

‘GDP में गिरावट, देश में कोरोना के सबसे ज्यादा मामले लेकिन मोदी सरकार के लिए सब चंगा सी’

0
428

देश में कई मुद्दे इस समय मुंह खोले खड़े हैं. जीडीपी और कोरोना महामारी ने सबसे ज्यादा मुश्किलें खड़ी कर रखी हैं. इस बीच कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi) लगातार सरकार को विभिन्न मुद्दों पर घेरने की कोशिश करते रहे हैं. ताजा मामले में कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने कोरोना वायरस (Coronavirus) महामारी से निपटने की तैयारी को लेकर एक बार फिर मोदी सरकार (Modi Government) पर बड़ा हमला बोला है.

राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने कोरोना के बढ़ते मामलों, अर्थव्यवस्था में तेज गिरावट और रोजगार के मुद्दे पर केंद्र सरकार को घेरा है. कांग्रेस नेता ने कहा कि मोदी सरकार की कोरोना वायरस के खिलाफ ‘सुनियोजित लड़ाई’ ने भारत को रसातल में ढकेल दिया है.

 

राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने शनिवार को अपने ट्वीट में लिखा, “कोविड के खिलाफ मोदी सरकार की ‘सुनियोजित लड़ाई’ ने भारत को रसातल में पहुंचा दिया है: जीडीपी में ऐतिहासिक 24 प्रतिशत की गिरावट, 12 करोड़ नौकरियां चली गईं, 15.5 लाख करोड़ रुपये का अतिरिक्त फंसा कर्ज, दुनिया भर में कोरोना के सबसे ज्यादा मामले और मौतें. लेकिन भारत सरकार और मीडिया के लिए ‘सब चंगा सी.’

लगातार सरकार पर साध रहे हैं निशाना

राहुल गांधी (Rahul Gandhi) लगातार सरकार पर निशाना साधते रहे हैं. इससे पहले चीन के मुद्दे पर उन्होंने सरकार को घेरने की कोशिश की थी. सरहद पर अभी भी हजारों की संख्या में चीन ने अपने सैनिक तैनात कर रखे हैं. भारत और चीन के बीच वास्तविक नियंत्रण रेखा (LAC) पर चल रहे तनाव के बीच कांग्रेस सांसद राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने एक बार फिर केंद्र सरकार पर हमला बोला.

यह भी पढ़ें: JEE Main का रिजल्ट हुआ जारी, गुजरात के निसर्ग चड्‌ढा ने किया टॉप

राहुल (Rahul Gandhi) ने अपने ट्विटर हैंडल पर लिखा कि चीन के साथ सिर्फ एक मुद्दे पर बात हो. मार्च 2020 वाली स्थिति फिर से बहाल करने पर.

 

कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने लिखा, ‘चीन से सिर्फ मार्च 2020 वाली स्थिति फिर से बहाल करने पर बात हो. प्रधानमंत्री और भारत सरकार, चीन को अपनी जमीन से पीछे धकेलने की जिम्मेदारी से पीछे हट गए हैं. और किसी तरह की बातचीत बेकार है.‘

इसके अलावा भी उन्होंने सरकार की योजनाओं पर सवाल खड़े किए थे.

 

रक्षा मामलों की बैठक में हुए थे शामिल

लद्दाख में एलएसी पर भारत और चीन के बीच लंबे समय से चल रहे गतिरोध के बीच शुक्रवार को प्रमुख रक्षा अध्यक्ष (सीडीएस) बिपिन रावत संसद की रक्षा मामलों की समिति के समक्ष पेश हुए.

संसद की रक्षा मामलों की समिति के अध्यक्ष बीजेपी नेता जोएल ओराम हैं. समिति की शुक्रवार को हुई बैठक में जो सदस्य शामिल हुए उनमें एनसीपी प्रमुख शरद पवार और कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi) भी शामिल हैं. पिछले साल लोकसभा चुनाव के बाद इस समिति में नामित किए जाने के बाद से राहुल गांधी (Rahul Gandhi) संभवतः पहली बार इसकी बैठक में शामिल हुए.

मालूम हो कि चीन के साथ तकरार को लेकर राहुल लगातार मोदी सरकार को घेरने की कोशिश करते रहे हैं और सरकार से सवाल करते रहे हैं कि आखिर कब हमारी जमीन चीन से वापसी ली जाएगी.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें