Gujarat Exclusive > राजनीति > सत्ता में आते ही कांग्रेस कृषि कानूनों को कूड़ेदान में फेंक देगी: राहुल गांधी

सत्ता में आते ही कांग्रेस कृषि कानूनों को कूड़ेदान में फेंक देगी: राहुल गांधी

0
291
  • कृषि कानून के खिलाफ पंजाब में बरसे कांग्रेस नेता राहुल गांधी
  • कहा कांग्रेस सत्ता में आएगी तो तीनों कानूनों को खत्म कर देगी
  • मोदी सरकार पर हमला बोलते हुए मोदी किसानों को खत्म करना चाहते हैं

पंजाब के मोगा से आज कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी की अगुवाई में ‘खेती बचाओ यात्रा’ का आगाज किया.

इस यात्रा से पहले उन्होंने एक विशाल जनसभा को संबोधित करते हुए जिस दिन कांग्रेस सत्ता में आएगी उस दिन किसानों से जुड़े तीनों कानून को कूड़ेदान में फेंक देगी.

इतना ही नहीं उन्होंने केंद्र और योगी सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि हाथरस में गैंगरेप पीड़िता को धमकाया जा रहा है.

अपराध करने वाले अपराधियों के खिलाफ कार्रवाई करने के बजाय पीड़ितों की आवाज को दबाया जा जा रहा है.

राहुल ने विशाल जनसभा को किया संबोधित

पंजाब के मोगा में राहुल गांधी ने विशाल जनसभा को संबोधित करते हुए केंद्र की मोदी सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि कृषि कानून के तहत मोदी सरकार किसानों की जमीनों को छीनने की कोशिश कर रही है.

उन्होंने कहा कि हमने भूमि अधिग्रहण कानून को बदला. आपकी जमीन की रक्षा के लिए हमने संसद से लेकर सड़क तक लड़ाई लड़ी. उत्पादन का बाजार दर से चार गुना ज्यादा मूल्य दिलाया.

लेकिन सत्ता में मोदी जी आए और उन्होंने हमारे कानून को रद्द कर दिया.

यह भी पढ़ें: हरियाणा गृह मंत्री अनिल विज का दावा, राहुल गांधी को जुलूस के साथ नहीं मिलेगी एंट्री

किसानों को खत्म करना चाहती है मोदी सरकार

राहुल गांधी ने अपने भाषण में केंद्र की मोदी सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि मोदी सरकार कृषि कानून लाकर किसानों को कठपुतली बनाना चाहती है.

उन्होंने कहा कि आज पूरे देश को सबसे ज्यादा अनाज पंजाब-हरियाणा के किसान देते हैं. हमने एमएसपी, फसल खरीद और मंडी का ढांचा बनाया. लेकिन मोदी सरकार सत्ता में आते ही इसे खत्म करना चाहती है.

इस कानून से मोदी सरकार फसल खरीद और एमएसपी को खत्म करना चाहती है. लेकिन कांग्रेस ऐसा बिल्कुल भी नहीं करने देगी. किसानों की हर लड़ाई के साथ कांग्रेस खड़ी है.

अनिल विज ने कहा राहुल को जुलूस के साथ नहीं मिलेगी एंट्री

पंजाब के मोगा से आज कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी की अगुवाई में ‘खेती बचाओ यात्रा’ को हरियाणा में खत्म किया जाएगा.

लेकिन इस बीच हरियाणा के गृहमंत्री अनिल विज ने कहा कि राहुल गांधी को प्रदेश की सीमा में एंट्री नहीं दी जाएगी. उन्होंने कहा कि राहुल गांधी खुद आना चाहते हैं तो वह एक नहीं हजार बार आए.

लेकिन अगर वह पंजाब से जुलूस लेकर हरियाणा में आते हैं तो हरियाणा का माहौल खराब होगा और हम ऐसा नहीं होने देंगे.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

रूपाणी सरकार ने गरीब-सामान्य परिवार को लेकर लिया एक और महत्वपूर्ण निर्णय