Gujarat Exclusive > राजनीति > राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर साधा निशाना, कहा- गलत नीतियों से आक्रामक हुआ चीन

राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर साधा निशाना, कहा- गलत नीतियों से आक्रामक हुआ चीन

0
503

भारत और चीन के सीमा विवाद पर लगातार सवाल खड़े करने वाले कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने एकबार फिर मोदी सरकार पर निशाना साधा है. राहुल गांधी ने कहा है कि चीन ने सीमा पर अतिक्रमण के लिए यही समय इसलिए चुना क्योंकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की नीतियों ने भारत को कमजोर कर दिया है. कांग्रेस नेता ने आज एक वीडियो जारी करके पीएम मोदी की गलत नीतियों पर सवाल खड़े किए हैं.

राहुल गांधी ने कहा कि आज देश आर्थिक रूप से संकट में है और विदेश नीति भी संकट के दौर में है. पड़ोसियों से रिश्ते खराब हैं, इसी वजह से चीन ने यह निर्णय लिया की भारत के विरुद्ध कार्यवाही करने और आक्रामक होने का यही सबसे सही समय है. इस वीडियो के जरिए राहुल गांधी ने अहम मुद्दों पर अपने ‘मन की बात’ का सिलसिला शुरू किया है. आने वाले दिनों में राहुल दूसरे कई मुद्दों पर भी चर्चा करेंगे.

 

चीन इस समय ही आक्रामक क्यों हुआ?’

अपने विचार पेश करते हुए राहुल ने वीडियो में पहले इसकी टाइमिंग को लेकर सवाल उठाए और फिर उनका जवाब देते हुए मोदी सरकार को घेरा. राहुल बोले “सवाल यह है कि आखिर चीन इसी समय आक्रमक क्यों हुआ और एलएसी पर अतिक्रमण के लिए क्यों चुना? इस समय में ऐसा विशेष क्या है जिससे चीन को यह विश्वास हुआ की वह भारत के विरुद्ध दुस्साहस कर सकता है?

देश की रक्षा विदेशी संबंधों से होती है

अपने सवालों का जवाब देते हुए पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि देश की रक्षा विदेश संबंधों से, पड़ोसी राष्ट्रों से और अर्थव्यवस्था से होती है. राहुल ने कहा कि सभी क्षेत्रों में, भारत क्षतिग्रस्त एवं संकटग्रस्त हुआ.

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कहा कि भारत के अमेरिका, रूस, यूरोपीय देशों जैसे विश्व के अहम राष्ट्रों से बेहतर रिश्ते रहे हैं लेकिन आज हमारे विदेशी संबंध मतलबपरस्त हो गए है. पड़ोसी देशों की बात की जाए तो पाकिस्तान को छोड़ सभी हमारे करीबी दोस्त थे लेकिन आज नेपाल हमसे नाराज एवं उग्र है. श्रीलंका ने तो चीन को बंदरगाह तक दे दिया, मालदीव भी परेशान है, भूटान भी परेशान है. साथ ही अर्थव्यवस्था का मुद्दा उठाते हुए राहुल ने कहा कि भारत की पिछले पचास वर्षों की जिस आर्थिक तरक्की का बखान हम पूरी दुनिया में करते थे वह अपने निचले स्तर पर है. 40 से 50 सालों में बेरोजगारी चरम पर है.

मंत्री के बेटे की क्लास लगाने वाली महिला कांस्टेबल सुनीता के खिलाफ जांच के आदेश