Gujarat Exclusive > देश-विदेश > आंदोलनरत 11 किसानों की मौत, राहुल गांधी का सवाल- और कितने को देनी होगी आहुति

आंदोलनरत 11 किसानों की मौत, राहुल गांधी का सवाल- और कितने को देनी होगी आहुति

0
377

कृषि कानून का विरोध करने वाले दिनों का आंदोलन 17 वें दिन भी जारी है. किसान और मोदी सरकार के बीच बाचतीत ना बनने की स्थिति में अब किसानों ने आंदोलन को तेज कर दिया है.

किसान संगठनों ने दिल्ली जयपुर और दिल्ली आगरा हाईवे को बंद करने का ऐलान किया है. इतना ही नहीं किसान हरियाणा में टोल प्लाजा को घेरने की तैयारी कर रहे हैं.

किसानों के विरोध के साथ मोदी सरकार को विपक्ष के विरोध का सामना करना पड़ रहा है. Rahul Gandhi question

आंदोलनरत 11 किसानों की मौत

कृषि कानून को लेकर कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी बीते कुछ दिनों से लगातार ट्वीट कर मोदी सरकार को घेरने की कोशिश कर रहे हैं.

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने आज आंदोलनरत किसानों की मोत पर केंद्र सरकार पर तंज कसा है.

राहुल ने एक मीडिया रिपोर्ट भी साझा किया है जिसमें दावा किया गया है कि कानून को रद्द करने की मांग करने वाले 11 किसानों की इन 17 दिनों में मौत हो चुकी है.

राहुल गांधी ने ट्वीट कर पूछा सवाल Rahul Gandhi question

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने मीडिया रिपोर्ट को साझा करते हुए लिखा” कृषि क़ानूनों को हटाने के लिए हमारे किसान भाइयों को और कितनी आहुति देनी होगी?” Rahul Gandhi question

इस रिपोर्ट में बताया गया है कि विरोध करने वाले 11 किसानों की अबतक मौत हो चुकी है. 11 मृतक किसानों के साथ 12 वीं फ्रेम भी बनाई गई है जिसमें लिखा गया है कि हे प्रभु यह फ्रेम खाली ही रहे.

राहुल गांधी ने इससे पहले कल अपने ट्विटर अकाउंट पर एक मीडिया रिपोर्ट को भी साझा किया था. जिसमें दावा किया गया है कि देश में पंजाब और हरियाणा के किसान सबसे ज्यादा कमाई करते हैं.

वहीं अगर सबसे कम कमाई करने वाले किसानों की बात की जाए तो इसमें सबसे पहला नाम बिहार के किसानों का आता है. Rahul Gandhi question

राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि सरकार हरियाणा और पंजाब के किसानों की कमाई बिहार के किसानों जिनती करना चाहती है.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

गुजरात की दयनीय स्थिति, तालाबंदी के दौरान 21.8% घरों में नहीं जल पाया एक वक्त का चूल्हा