Gujarat Exclusive > राजनीति > कोरोना पर नहीं सुना, अब चीन पर तो सुने केंद्र: राहुल गांधी

कोरोना पर नहीं सुना, अब चीन पर तो सुने केंद्र: राहुल गांधी

0
484

राहुल गांधी (Rahul Gandhi) लगातार केंद्र सरकार पर उनकी चेतावनी की अनदेखी करने का आरोप लगाते रहे हैं. इस बीच अब राहुल ने केंद्र को चीन के मसले पर उनकी चेतावनी को गंभीरता से लेने को कहा है. कांग्रेस (Congress) के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने शुक्रवार को आरोप लगाया. उन्होंने कहा कि सरकार ने पहले कोरोना वायरस को लेकर सचेत करते हुई कही गई उनकी बातों की अनदेखी की. साथ ही अब वह चीन को लेकर भी वही कर रही है.

शुक्रवार को राहुल गांधी ट्वीट किया, ‘मैं कोविड-19 और अर्थव्यवस्था के बारे में सचेत करता रहा. उन्होंने मेरी चेतावनी को नहीं सुना. नतीजा- देश पर आपदा. मैं चीन के बारे में भी बार बार सचेत कर रहा हूं. वे अब भी नहीं सुन रहे.’

लगातार आवाज उठारे रहे हैं कांग्रेस नेता

मालूम हो कि राहुल गांधी ने कोरोना वायरस के मुद्दे पर मार्च महीने की शुरुआत में संसद परिसर में हमला बोला था. कांग्रेस नेता ने कहा था कि कोरोना वायरस के संकट को लेकर सरकार को तुरंत कदम उठाने चाहिए. साथ ही आगे ‘आर्थिक सुनामी’ आने वाली है जिससे निपटने की तैयारी करनी होगी. वह चीनी सेना की घुसपैठ को लेकर भी पिछले कुछ हफ्तों से सरकार से सवाल पूछ रहे हैं.

यह भी पढ़ें: मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने लगाया राज्यपाल कलराज मिश्र पर आरोप

राहुल गांधी लगातार केंद्र की मोदी सरकार को चीन के मसले पर घेरते रहे हैं. वह मन की बात सीरीज से एक सीरीज की शुरुआत की है. इसमें वह देश के तमाम मुद्दों पर चर्चा करते नजर आ रहे हैं. हाल ही में बीजेपी ने आरोप लगाया था कि राहुल गांधी सेना का मनोबल गिरा रहे हैं.

सोशल मीडिया पर छाए राहुल गांधी

राहुल गांधी ने गुरुवार को लद्दाख सीमा पर स्थिति नहीं संभालने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की आलोचना की. उन्होंने एक और वीडियो पोस्ट किया. इसमें लद्दाख में चीनी आक्रामकता को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनकी सरकार की नीति पर निशाना साधा गया.चीन के साथ बने गतिरोध को लेकर राहुल गांधी की ओर से  17 जुलाई और 20 जुलाई को जारी किया. इस वीडियो को अब तक 15 करोड़ बार देखा जा चुका है. दोनों वीडियो को ट्विटर पर 4 करोड़, फेसबुक पर 6 करोड़, यूट्यूब पर 2 करोड़ बार देखा जा चुका है. वहीं वाट्सऐप पर 2 करोड़ यूजर्स ने इसे शेयर भी किया है.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

कानपुर लैब टेक्नीशियन हत्या मामला, IPS सहित चार पुलिस अधिकारियों पर गिरी गाज